नहीं जानते होंगे आप शरीर में छिपी इन 10 ताकतों को!!

इंसानी शरीर सबसे पेचिदा चीज में से एक है और आपको लगता है कि आप अपने शरीर को सबसे बेहतर तरीके से जानते हैं। लेकिन, शरीर के आश्चर्यचकित करने वाले रहस्यों को जानकर आप हैरान रह जाएंगे। चाहे छुपी सोच हो या फिर पुनरूत्पादक शक्तियां, हम आपको शरीर के 10 अद्भुत रहस्य बताने जा रहे हैं।

  1. इंसानी आंख एक करोड़ रंगों को पहचान सकती हैं!
    आपकी आंखे वास्तव में यूवी किरणों को देख सकती है, बस फर्क यह है कि आंखों के लेंस इन्हें फिल्टर कर देते हैं। जो लोग ऑपरेशन के जरिए इन लेंसों को हटवाते हैं, वे यूवी किरणों को देख सकते हैं। इंसानी आंख एक करोड़ रंगों को पहचान सकती हैं और अगर उसके सामने कोई अड़चन नहीं आए तो 48 किलोमीटर दूर एक मोमबत्ती को भी देख सकती है। अगर हम अपनी आंखों को कैमरा माने तो ये 576 मेगापिक्सल का कैमरा होंगी।
  2. बालों की मदद से आप डबल डेकर बस को खींच सकते हैं!
    आपके सिर पर अगर घने बाल हैं तो ये 12 टन तक के वजन को सहारा दे सकते हैं। इसका मतलब है कि बालों की मदद से आप डबल डेकर बस को खींच सकते हैं, लेकिन गर्दन से ऎसा नहीं कर सकते। आपको जानकर हैरानी होगी की हमारी हडि्डयां स्टील (इस्पात) से पांच गुना ज्यादा मजबूत होती हैं।
  3. रात में लंबे हो जाते हैं!
    जब आप सुबह बिस्तर से उठते हैं तो शाम के मुकाबले आप आधा इंच या फिर 1.27 सेंटीमीटर लंबे होते हैं। ऎसा इसलिए होता है क्योंकि स्पाइनल डिस्क में अतिरिक्त तरल पदार्थ जमा हो जाता है। जब आप पूरे दिन खड़े रहते हैंतो रीढ पर दबाव पड़ता है जिससे तरल पदार्थ निचुड़ जाता है। जब आप सोने चले जाते हैं तो यह तरल पदार्थ फैल सकता है जिसके चलते आप सुबह होने पर आप लंबे हो जाते हैं और रात होने पर छोटे।
  4. बिना देखे अन्य अंगों की लोकेशन जानता है यह सेंस!
    सबको पता है कि इंसानों के पास पांच सेंस (इंद्रियां)-दृष्टि, आवाज, छूना, खुशबू और स्वाद होते हैं। वास्तव में हमारे पास पांच से ज्यादा सेंस होते हैं। जब हम हमारे हाथों को आग के ऊपर रखते हैं या फिर फ्रीजर को खोलते हैं तो तापमान को जानने के लिए हम असल में त्वचा के अंदर मौजूद तापमान संवेदकों का इस्तेमाल कर रहे होते हैं। एक अन्य सेंस है प्रोपरियोसेपशन है जिसे मेटा-सेंस कहा जाता है। यह शरीर का वो सेंस है जो बिना देखे अन्य अंगों की लोकेशन जानता है। दूसरे प्रकार से कहें तो इसके बिना हम अपनी आंखे बंद कर सिर, कंधे, घुटनों और पंजो को हिला नहीं पाएंगे। अन्य सेंस हैं संतुलन, कंपन, भूख और प्यास।
  5. शरीर से नहीं आती पसीने की बदबू!
    आपके शरीर से निकलने वाले पसीने से बदबू नहीं आती है। सच्चाई तो यह है कि इंसान का शरीर दो जगहों पसीने को निकालता है। एक पूरे शरीर में मौजूद एक्करीन ग्लेंड से और दूसरा आपके हाथों और पैरों के बीच में मौजूद एपाक्रीन ग्लेंड से। शरीर से जो बदबू आती है वह असल में एपाक्रीन ग्लेंड से निकलने वाले पसीने से आती है जिसे जिवाणु खाते हैं।
  6. हम मुंडे हुए बंदर हैं!
    इंसानी शरीर पर उतने ही बाल होते हैं जितने की एक चिंपाजी के शरीर पर होते हैं। वो बात अलग है कि हमारे बाल कोमल, लेकिन ज्यादातर किसी काम के नहीं होते हैं। हालांकि, इससे पता चलता है कि रोगटे क्या करते हैं। जब हमें ठंड लगती है तो गर्मी के लिए वे बालों को खड़ा कर देते हैं। अगर हमें डर लग रहा होता है तो रोंगटें अस्तित्वहीन छाल (फर) को खड़ा कर देते हैं ताकि हम और बड़े एवं खतरनाक लगें।
  7. एकमात्र ऎसा अंग है जो फिर से उग सकता है!
    हमारे शरीर में लीवर ही एकमात्र ऎसा अंग है जो फिर से उग सकता है। अगर शरीर में सिर्फ 25 प्रतिशत लीवर ही बच जाता है तो यह अपने आप को ठीक कर सामान्य आकार में पहुंच जाता है।
  8. शरीर से दिल को अलग कर दिया जाए तो भी धड़कता है!
    आपने अक्सर डरावनी फिल्मों में देखा होगा कि किसी का दिल बहार निकाल लिया जाता है और उसके बावजूद वह धड़क रहा होता है। आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि वास्तव में ऎसा हो सकता है। शरीर से दिल को अलग कर दिया जाए तो वह फिर भी धड़कता रह सकता है क्योंकि उसके खुद के पास विद्युतीय उत्तेजना होती है। इंसानी दिल औसतन दस लाख बैरल खून पंप करता है। दिल के बारे में एक धारणा यह है कि वह शरीर के बाएं हिस्से में होता है। वास्तव में वह बाएं नहीं, बल्कि शरीर के बीच में होता है।
  9. दिमाग 300 साल तक के वीडियो स्टोर कर सकता है!
    हमारा दिमाग उतनी ही शक्ति की मदद से चलता है जितनी शक्ति 20 वॉट के बल्ब को चलाने के लिए चाहिए। लेकिन, दिमाग में उससे कहीं ज्यादा संभावना है। असल में दिमाग में 25 लाख जीबी डाटा स्टोरेज की संभावना है। यानि दिमाग 300 साल तक के वीडियो स्टोर कर सकता है। हमारा दिमाग इतना डाटा स्टोर ही नहीं कर सकता, बल्कि वह बहुत तेज भी है।
  10. शरीर अणुओं की उम्र अरब साल से ज्यादा!
    आपने कभी सोचा है कि हमारा शरीर किससे बना हुआ है। आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि हमारा शरीर अणु से बना हुआ है। इसे संदर्भ में डाले तो हम 7,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,00,000 अणुओं से बना हुआ है। और इन अणुओं की उम्र अरब साल से ज्यादा की है।

English Keywords: Amazing Unbelievable Hidden Secrets of Human Body in Hindi Language,Human Body Unknown Facts in Hindi Language, Manav Sharir Ka Gyan in Hindi,




Related...



Leave a Reply