स्वास्थ्य सम्बन्धी सुझाव हिन्दी में, Health Care Tips in Hindi, Share With Friends and Family

लहसुन भले ही स्‍वाद में थोड़ा तीखा हो लेकिन आयुर्वेदिक रूप से इसमें कई औषधिय गुण पाए जाते हैं। रोजाना सुबह 1-2 लहसुन की कली खाई जाए तो कई बीमारियों से बचाव होता है। सब्‍जी या दाल में इसका छौंक लगाने के अलावा इससे तैयार चाय भी फायदेमंद होती है। जानते है इसे बनाने का
Complete Reading

फल सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन केमिकल से पके फलों को खाने से सेहत बिगड़ सकती है। केमिकल से पके फल देखने में तो सामान्‍य दिखते है लेकिन इनके भीतर और ऊपरी सतह पर जमा केमिकल या कर्बाइड की परत शरीर की पाचन क्रिया बिगड़ती है। लंबे समय तक कोई व्‍यक्ति इस तरह के
Complete Reading

भारत में सफेद दाग के प्रति बहुत भ्रांतियां है, इसे सफेद कुष्‍ठ के नाम से भी जाना जाता है। भारतवर्ष में कुल जनसंख्‍या का लगभग 1% से 8% के मध्‍य विटिलिगो के रोगी हैं। विश्र्व जनसंख्‍या का 1% लोग इस रोग से ग्रसित हैं। ██ सफेद दाग क्‍या है ? विटिलिगो यानी सफेद दाग एक
Complete Reading

हार्टबर्न की समस्‍या पेट में बनने वाले एसिड की वजह से पैदा होती है। इस दौरान सीने या गले में जलन और गले में दर्द, खट्टी डकार आना, उल्‍टी का मन करना, पेट में भारीपन लगना जैसे समस्‍याएं होने लगती है। वैसे तो यह समस्‍या एक ही समय में जरूरत से ज्‍यादा भोजन करने की
Complete Reading

लंच या डिनर करने के बाद अक्‍सर लोग चाय-कॉफी लेना, सोने चले जातना, धूम्रपान जैसी आदतों के आदी होते हैं। ये आदतें कई तरह से नुकसान पहुंचाती है। जानते हैं कुछ ऐसी आदतों के बारे में जो अक्‍सर लोग खाना खाने के बाद करते है:- चाय या कॉफी लेना:- खाने के तुरंत बाद चाय लेने
Complete Reading

इन दिनों सुबह के कोहरे की वजह से वायु प्रदूषण बढ़ जाता है, हवा में शुष्‍कता से धूल मिट्टी ज्‍यादा उड़ने लगती है और गले में तरह-तरह का इंफेक्‍शन होने लगता है। ईएनटी विशेषज्ञ डॉ. उत्‍तम अग्रवाल द्वारा बताई गई, गले से जुड़ी इन समस्‍याओं, उनके इलाज और सावधानियों को जान लेना जरूरी है- •
Complete Reading

शरीर में कैल्शियम की कमी होने का सबसे ज्‍यादा असर हड्डियों व मांसपेशियों पर पड़ता है। यही नहीं पर्याप्‍त कैल्शियम नहीं मिलने से दिल की कमजोरी, हार्मोन्‍स का गड़बड़ होना, रक्‍त के थक्‍के नहीं जमना व महिलाओं में मासिक धर्म संबंधी परेशानियां होने लगती है। इसी कमी को कुछ इस तरह पूरा किया जा सकता
Complete Reading

मौसम बदलते ही खांसी, सर्दी जुकाम और बुखार जैसी समस्‍या अक्‍सर सामने खड़ी हो जाती है। लेकिन अगर आप इस समस्‍या से बचना चाहते हैं, तो अपनी कुछ आदत बदल लें। भरपूर लें विटामिन सी और जिंक विटामिन सी और जिंक इम्‍यूनिटी बढ़ाने का काम करते हैं। ऐसे में जरूरी है कि रोजाना अपनी डाइट
Complete Reading

डॉ. मणि कोठारी सीनियर फिजिशियन, जयपुर (पत्रिका न्‍यूज पेपर के 20/08/17 अंक में प्रकाशित लेख से लिया गया) • प्‍लेट लेट्स क्‍या हैं ? प्‍लेट लेट्स रक्‍त का एक हिस्‍सा है। इनका आकार प्‍लेट्स की तरह होता है इसलिए इसका यह नाम है। • यह क्‍या कार्य करती है ? यह खून का थक्‍का (Blood
Complete Reading

पिछले कुछ सालों से हृदय से संबंधित चिकित्‍सा सेवाओं में विकास के बावजूद हार्ट अटैक से मरने वालों की संख्‍या में इजाफा हुआ है। इसका सबसे बड़ा कारण रहा है ‘हार्ट अटैक’ के शुरूआती लक्षणों को नजर अंदाज करना। कुछ खास आदतों को बदलकर आप भी दिल की बीमारी से दूर रह सकते हैं। आज
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account



error: Content is protected !!