Wednesday, September 26
Home>>Home Remedies>>जब हिचकी करे परेशान तो करें ये आसान उपचार!!
Hichki Ke Karan aur Upay in Hindi
Home Remedies

जब हिचकी करे परेशान तो करें ये आसान उपचार!!

यूं तो हिचकी आना सामान्‍य बात होती है, लेकिन लगातार हिचकी आना एक तरह की बीमारी होती है। ऐसी हिचकी को रोकना मुश्‍किल होता है। कई बार गले में कुछ फंसने, मौसम में बदलाव या तेज मिर्च मसाला खाने से हिचकियां शुरू हो जाती हैं। इससे बचने के लिए कुछ घरेलु नुस्‍खे अपनाए जा सकते है। इसके बाद भी हिचकी नहीं रुकने पर डॉक्‍टर से राय लेनी चाहिए।

इसलिए आती है हिचकी:-

डायफ्रॉम की मसल्‍स के अचानक सिकुड़ने की वजह से हिचकी की स्‍थिति बन जाती है। मुंह में जब वायु ऊपर की ओर बढ़ती है तो हिक-हिक की आवाज आती है। इस तरह वायु रुक-रुक कर बाहर निकलती है। ऐसी स्थिति वायु बढ़ाने वाले पदार्थो को खाने से उत्‍पन्‍न होती है। कई बार मिर्च मसाले खाने या गले में कोई चीज अटक जाने से आमाशय से ऊपर की ओर वायु उठती है जिससे हिचकी शुरू हो जाती है। गर्म के बाद कुछ ठंडा खाने, धूम्रपान करने या ज्‍यादा टेंशन लेने से भी हिचकी होती है।

ऐसे पाएं हिचकी से निजात:-

कुछ सैकंड के लिए रोकें सांस:- एक लंबी सांस ले और उसे कुछ सैकंड के लिए रोकें। दरअसल इस प्रक्रिया से फेफड़ों में कार्बनडाय ऑक्‍साइड भरती है जिसे डायफ्राम निकलता है। ऐसे में हिचकी अपने आप बंद हो जाती है। उल्‍टी गिनती पर ध्‍यान केद्रित करने पर भी इससे राहत मिलती है।

दूसरी ओर लगाएं अपना ध्‍यान:- जब पानी पीने या कुछ खाने से भी हिचकी पर नियंत्रण न हो तो ध्‍यान भटकाने की कोशिश करें। दिमाग को दूसरी ओर लगाने या हैरान करने वाली बात हिचकी को रोकने में मदद करती है। साथ ही गर्दन पर आईस बैग या ठंडे पानी में भीगा कपड़ा भी रख सकते हैं।

धीरे खाएं खाना:- जल्‍दी-जल्‍दी खाना खाने से भी हिचकी आने लगती है। ऐसे में खाना धीरे-धीरे चबा-चबाकर खाना चाहिए। ज्‍यादा तीखा खाना भी हिचकी का कारण होता है।

कुछ घरेलू उपाय:-

शहद की मिठास शरीर की नर्ब्‍स को बैलेंस करती है। ऐसे में सिर्फ शहद चाटने या एक चम्‍मच नींबू के रस में शहद मिलाकर चाटने से भी आराम मिलता है। नींबू का एक चौथाई टुकड़ा भी मुंह में डाला जा सकता है। इसके अलावा चीनी भी हिचकी रोकने में मददगार है। काली मिर्च का सेवन भी लाभकारी होता है। तीन काली मिर्च और मिश्री मिलाकर चबाएं और उसका रस चूसते रहें। जरूरत लगने पर एक या दो घूंट पानी पी सकते है। इससे भी हिचकी से राहत मिलती है।


Jane Hichki Kyu Aati Hai, Hichki Ke Karan aur Upay in Hindi, Hiccups Treatment Home Remedy in Hindi, Hichki Ka Ilaj Hindi Me, Hichki Aane Ki Waja, Home Remedies



Leave a Reply

error: Content is protected !!