Tuesday, December 11
Home>>Health Care>>आंख फड़कने में घरेलू उपचार!!
Health Care

आंख फड़कने में घरेलू उपचार!!

आंख फड़कने के कारण कैफीन, स्‍ट्रेस, एलर्जी और ड्राई आई भी हो सकते हैं।

आंख फड़कना सामान्‍य समस्‍या है, जो स्‍वत: ही कुछ समय बाद ठीक हो जाती है, लेकिन यह समस्‍या कई दिनों तक लगातार बनी रहे तो, तो चिकित्‍सक से उचित सलाह अवश्‍य लेनी चाहिए। यह क्रोनिक मूवमेंट डिस्‍ऑर्डर भी हो सकता है। आंख फड़कने के पीछे बहुत ज्‍यादा कैफीन लेना भी हो सकता है। इसके अलावा तनाव की वजह से भी इस तरह की समस्‍या हो सकती है। न्‍यूट्रिसंस इनबैलेंस भी एक बड़ा कारण हो सकता है। ऐसे में कुछ घरेलू उपायों की मदद से आंखों का फड़कना रोका जा सकता है। साथ ही आंखों के लिए कुछ खास तरह की एक्‍सरसाइज भी इस समस्‍या से आसानी से निजात दिला सकती है, तो आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ कारगर उपायों के बारे में, जिनसे आंखे स्‍वस्‍थ भी बनी रहेगी।

केला खाएं:-
आंख फड़कने के पीछे एक कारण शरीर में पोटेशियम और मैग्‍नीशियम की कमी होता है। ऐसे में केले को नियमित अपनी डाइट का हिस्‍सा बना लेना बेहतर उपाय है। केला पोटेशियम और मैग्‍नीशियम के अलावा और भी कई तरह के जरूरी मिनरल्‍स एवं विटामिन्‍स का अच्‍छा स्‍त्रोत है।

गर्म पट्टी लगाएं
आंखों पर गर्म पट्टी से सिकाई करने से भी इस समस्‍या को दर किया जा सकता है। इसके लिए आप मोटे रूमाल को गर्म पानी में डूबोएं और फिर उसे निचोड़कर आंखों पर रख लें। लेकिन ध्‍यान रहे कि रूमाल ज्‍यादा गर्म नहीं होना चाहिए। ऐसा दिन में पांच-छह बार करने से आराम मिलेगा।

कारगर है खीरा
आंखों का फड़कना रोकने के लिए खीरा भी एक अच्‍दा घरेलू उपाय है। इसलिए खीरे की स्‍लाइस को काट लें और उसे दोनों आंखों पर कुछ देर के लिए रखा रहने दें। दरअसल खीरे में एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रोपर्टीज होती है। यह नर्व मसल्‍स को आराम देने का काम भी करती है। खीरे की ठंड़ी स्‍लाइस को ही आंखों पर रखने से आराम मिलेगा।

मैग्‍नीशियम सप्‍लीमेंट्स लें ऐसे फूड जिसमें मैग्‍नीशियम अच्‍छी मात्रा में पाया जाता है, उन्‍हें डाइट में शामिल करने से भी आंखों का फड़कना रोका जा सकता है। इसके लिए एवोकाडो, बीन्‍स, सीड्स, नट्स और हरी पत्‍तेदार सब्जियां अच्‍छा विकल्‍प है। यह नर्व के फंग्‍शन को भी ठीक रखता है।

नीलगिरी के तेल की भाप लें
आंखों की समस्‍या को दूर करने के लिए स्‍ट्रीम भी एक उपाय हो सकता है। इससे रोमछिद्र खुलकर गंदगी तो बाहर निकलेगी ही साथ ही नर्व का मूवमेंट भी ठीक होगा। भाप देने के लिए गर्म पानी में नीलगिरी के तेल की कुछ बूंदे डालें। तौलिए से मुंह को ढककर भाप लें।


Home Remedies For Eye Twitching in Hindi, aankh ka fadakna kaise band kare, aankh phadakna home remedies gharelu Nushke in Hindi, Health Care Tips



Leave a Reply

error: Content is protected !!