Miscellaneous

बात पते की – गुस्से में अनजाने रिश्ते ना तोड़े!!

अक्सर इंसान को जब गुस्सा आता हैं, वह अपने आगे पीछे की सब भूल जाता हैं। कोई भी दूसरा इन्सान अगर गुस्से वाले से बात करे तो जो मुँह में आये जवाब दे देता हैं। अगर सामने वाला उसका अपना हैं तो २-४ बार सुन भ

Read More
Miscellaneous

सही समय पर सही बात बोलना!

स्वयं की आत्मरक्षा के लिए- सही समय पर सही बात बोलना!"आवाज" - बोलने की ताकत, परमात्मा ने दी हैं। ईश्वर ने यह मानव देह बनायीं हैं उसके हर एक अंग का अपना महत्व हैं। जब इन्सान दुनिया में आता है, हम स...

Read More
Miscellaneous

जानें जीवन में मुस्कुराहट का क्‍या महत्व होता है!

👉 कभी सड़क पर चलते हुए अनजान आदमी को देखकर मुस्कुराएं, देखिये उसके चेहरे पर भी मुस्कान आ जाएगी!👉 अगर आप घर के मुखिया हैं, तो मुस्कुराते हुए शाम को घर में घुसेंगे तो देखना पूरे परिवार में खुशि

Read More
Miscellaneous

जिंदगी में उपहार का महत्व!!

उपहार का शाब्दिक अर्थ - उप + हार (जब किसी का आदर करते है या आभार व्यक्त करते है, तो उसे हार पहनाते है। हार पहनाने से कही ऊपर, आभार हम उपहार देके व्यक्त करते है) हर रिश्ते में उपहार का बहुत महत्व होत

Read More
Miscellaneous

टेंशन – इन्सान का टशन !

आज की समस्याएं और टेंशन इन्सान का टशन ही है। आज व्यक्ति अपने में बदलाव लाने से डरता है, इसका परिणाम की वह हमेशा समस्यायों में ही उलझ रहता है। जब भी कही एक साथ सब बातें करने बैठेंगे सबकी अपनी अपनी समस्...

Read More
Miscellaneous

जानें ईमानदारी का वास्तविक अर्थ !!

ईमानदारी का वास्तविक अर्थ :- " ई+ मान+ दारी "अपने आप के साथ जो वफादार रहे, अपनी आत्मा (I) का मान जो रखता है वह गुण का नाम है ईमानदारी! ईमानदारी को इन्सान का सर्वश्रेष्ठ गुण और गहना कहा जाता है...

Read More
Miscellaneous

आत्मविश्लेषण (Introspection)

आज के समय हर व्यक्ति में अव्यवस्था, मानसिक तनाव और अंतर्मन की शांति का अभाव देखने को मिलता है। कोई भी व्यक्ति थोड़ी सी ज्यादा बात होने पर जुंझला जाता है, उनकी सहन शक्ति और समझने की शक्ति जैसे खत्म सी ल...

Read More
Miscellaneous

इतना व्यस्त न रहो की रिश्तों की मस्ती न रहे!!

आज के समय में एक प्रॉब्लम हर इन्सान के साथ रहती है, जब वह फ्री होते है और उसके साथ वाले व्यस्त होते है, तो पहेली शिकायत सामने वाले से होती है- "तुम्हारे पास मेरे लिए टाइम ही नहीं है" यह शिकायत एक पति-...

Read More
Miscellaneous

वचन का महत्व !

आज के समय में हम देखते है की रिश्तों में पहले जितनी मिठास और भावनाये नहीं रही। आखिर इसकी क्या वजह है... अगर थोड़ा सा सोचे तो पाएंगे की रिश्तों में वचन बध्यता का अभाव हो रहा है। आज की पीढ़ी अपने रिश्तों ...

Read More
Miscellaneous

सफलता की आदतें ~ प्रेरणादायक लेख

दोस्‍तों अगर आपकों अपनी जिंदगी में सफल बनना है तो, आपको मेहनत, लग्‍न के साथ साथ आपनी आदतों को भी सुधारना पडेगा क्‍योकि हमारी आदतें ही हमारें जीवन को दिशा प्रदान करती है। आपको एक छोटी सी कहानी के जरिये...

Read More