Monday, October 22
Home>>Health Care>>फल-सब्जियों को अनदेखा तो नहीं कर रहें आप!
Health Care

फल-सब्जियों को अनदेखा तो नहीं कर रहें आप!

यदि आपको पिछले कुछ समय से ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या परेशान करने लगी है तो अपनी डाइट पर ध्‍यान दें !

शरीर कुछ ऐसे संकेत देना शुरू कर देता है, जो आपको बार-बार यह अहसास करवाता है कि आप हेल्‍दी डाइट नहीं ले रहे हैं, जैसे आप आलसी होने लगेंगे या फिर कुछ भूलने लगेंगे। अचानक से आपको वजन बढ़ा हुआ महसूस होगा तो कभी बीपी की समस्‍या परेशान करेगी। डायबिटीज का रोग भी उभर सकता है। यह सब बीमारियां इस बात की ओर इशारा करती है कि आपके शरीर में अब पोषक तत्‍वों की कमी हो चुकी है। दरअसल, शारीरिक क्रियाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए शरीर को विटामिन्‍स और मिनरल्‍स की अवश्‍यकता होती है। इसके लिए सबसे अच्‍छा तरीका है कि आप रोजाना फल औश्र सब्जियों का भरपूर मात्रा में सेवन करें।

जानते हैं, इनकी कमी से होने वाले दुष्‍प्रभावों के बारे में :-

पेट की समस्‍या (Stomach problems) :- यदि आपको पेट संबंधी समस्‍या रहती है तो यह इस बात का संकेत है कि आपकी डाइट में फल और सब्जियों की मात्रा बहुत कम है। फल और सब्जियां विटामिन्‍स और मिनरल्‍स के साथ ही फाइबर का भी अच्‍छा सोर्स है। इस तरह जब आप अपनी डाइट में पर्याप्‍त मात्रा में फाइबर लेंगे तो पाचन संबंधी कई समस्‍याओं को दूर कर सकते है।

विटामिन्‍स व मिनरल्‍स की कमी (Lack of vitamins and minerals):- फल और सब्जियां न्‍यूट्रिसंस का बहुत बड़ा स्‍त्रोत होते है। एक अध्‍ययन के अनुसार यदि आप फल और सब्जियों को बहुत कम मात्रा में सेवन करेंगे तो इससे न्‍यूट्रिसंस की कम हो जाएगी। इसकी वजह से शरीर में कई तरह के दुष्‍प्रभाव दिखाई देने लगेंगे। हेल्‍थ एक्‍सपर्ट्स के अनुसार रोजाना तीन तरह की सब्जियों और दो तरह के फलों का सेवन किया जाना चाहिए। विटामिन्‍स और मिनरल्‍स की कमी को दूर करने के लिए किसी तरह के सप्‍लीमेंट का उपयोग न करें।

कैंसर का खतरा (Risk of cancer):- अमरीकन इंस्‍टीट्यूट ऑफ कैंसर रिसर्च के अनुसार कोई ऐसा फूड नहीं हैं जो आपको कैंसर से बचाए लेकिन प्‍लांट बेस फूड कैंसर का खतरा काफी हद तक कम कर सकते हैं। दरअसल, फल और सब्जियों एंटी ऑक्‍सीडेंट्स जैसे विटामिन ई, विटामिन ए एवं कैरोटिनॉइड्स का अच्‍छा स्‍त्रोत होते है, जो कैंसर की आशंका कम करने के साथ ही स्‍वस्‍थ कोशिकाओं पर फ्री रेडिकल्‍स का खतरा भी कम करते हैं। इसलिए अनहेल्‍दी फूड की जगह ज्‍यादा से ज्‍यादा फल और सब्जियों को शामिल करें।

डायबिटीज का रिस्‍क (Diabetes Risk) :- वजन बढ़ने का संबंध डायबिटीज से भी है। यदि आप फल और सब्जियों की जगह हाई-डेंसिटी फूड का सेवन करते हैं। तो इससे डायबिटीज की आशंका बढ़ जाएगी। ओवरवेट को टाइप-2 डायबिटीज का सबसे महत्‍वपूर्ण फैक्‍टर माना गया है। कइ कई अध्‍ययनों से यह साबित हुआ है कि यदि फल और सब्जियों का ज्‍यादा मात्रा में सेवन किया जाए तो इस तरह के खतरे को कम किया जा सकता है। यदि आपको पहले से ही डाबिटीज है तो भी फल और सब्जियों को डाइट में शामिल करके इस अवस्‍था को खराब होने से बचाया जा सकता है। लो ग्‍लाइसेमिक इंडेक्‍स वाले फलों का सेवन करें।


phal sabjiyo ko andekha to nahi kar rahe aap, Please do not ignore the fruits and vegetables you!, Fruits and Vegetables Good Benefits for Health in Hindi,



Leave a Reply

error: Content is protected !!