Stories

दही का इंतजाम ~ Hindi Moral Story

शर्माजी जब लगभग 45 वर्ष के थे तब उनकी पत्नी का स्वर्गवास हो गया था। बहुत से लोगों ने शर्माजी से दूसरी शादी की सलाह दी परंतु शर्माजी ने यह कहकर मना कर दिया कि पुत्र के रूप में पत्नी की दी हुई भेंट ...

Read More
Stories

मैंने भगवान को मुस्कराते हुए देखा! – प्रेरणादायक कहानी

गरमी का मौसम था, मैने सोचा काम पे जाने से पहले गन्ने का रस पीकर काम पर जाता हूँ। एक छोटे से गन्ने की रस की दुकान पर गया !! वह काफी भीड-भाड का इलाका था, वहीं पर काफी छोटी-छोटी फूलो की, पूजा की सामग्री ...

Read More
Stories

लकड़ी का कटोरा ~ प्रेरणादायक कहानी

एक वृध्‍द व्‍यक्ति अपने बहु-बेटे के यहाँ शहर रहने गया। उम्र के इस पड़ाव पर वह अत्‍यंत पड चुका था, उसके हाथ कांपते थे और दिखाई भी कम देता था। वो एक छोटे से घर में रहते थे, पूरा परिवार और उसका चार वर्षी...

Read More
Stories

अमरूद वाली बुढि़या और शर्मा जी ~ Inspirational Story!

ऑफिस से निकल कर शर्माजी ने स्कूटर स्टार्ट किया ही था कि उन्हें याद आया, पत्नी ने कहा था, 1 Kg अमरूद लेते आना। तभी उन्हें सड़क किनारे बड़े और ताज़ा अमरूद बेचते हुए एक बीमार सी दिखने वाली बुढ़िया दिख गयी। ...

Read More
Stories

पति-पत्नी और तलाक ~ एक अनोखा संबंध..!!

इससे बात से कोई फर्क नहीं पडता की आप विवाहित हैं या अविवाहित, अगर आप पूरी कहानी पढेगें तो आपकी आंखों में प्रेम के आंसू छलक आयेंगे!!मुकदमा दो साल तक चला ...... आखिर पति-पत्नी में तलाक हो गया... ...

Read More
Stories

अच्छाई और बुराई…

उभरती बुराई ने दबती सी अच्छाई से कहा, कुछ भी हो, लाख मतभेद हो पर है तू मेरी सहेली। मुझे अपने सामने तेरा दबना अच्छा नही लगता। अलग खड़ी न हो मुझमें मिल जा। मै तुझे भी अपने साथ बढ़ा लूंगी, समाज में फैला लू

Read More
Stories

एक चुटकी ज़हर रोजाना!!

गीता नामक एक युवती का विवाह हुआ और वह अपने पति और सास के साथ अपने ससुराल में रहने लगी। कुछ ही दिनों बाद गीता को आभास होने लगा कि उसकी सास के साथ पटरी नहीं बैठ रही है। सास पुराने ख़यालों की थी और बहू नए

Read More
Stories

नमक का स्वाद ~ Moral Story in Hindi

एक बार एक परेशान और निराश व्यक्ति अपने गुरु जी के पास पहुंचा और बोला:- "गुरूजी जी मैं जिंदगी से बहुत परेशान हूँ, मेरी जिंदगी में बहुत परेशानियां और तनाव के आलावा कुछ भी नहीं है। कृपया मुझे सही राह दि

Read More
Stories

आप मेरे पिता को कब से जानते हैं ?

एक बेटा अपने बूढ़े पिता को वृद्धाश्रम एवं अनाथालय में छोड़कर वापस लौट रहा था... . . उसकी पत्नी ने उसे यह सुनिश्चत करने के लिए फोन किया कि पिता त्योहार वगैरह की छुट्टी में भी वहीं रहें घर ना चले ...

Read More
Stories

सुखी जीवन का रहस्य!!

एक बार यूनान के मशहूर दार्शनिक सुकरात भ्रमण करते हुए एक नगर में गए। वहां उनकी मुलाकात एक वृद्ध सज्जन से हुई, दोनों आपस में काफी घुलमिल गए। वृद्ध सज्जन आग्रहपूर्वक सुकरात को अपने निवास पर ले गए। भरा-पू...

Read More