Birbal Ki Khichdi Ki Kahani in Hindi

जलकण्‍ड में बरहमन! बीरबल की खिचड़ी की कहानी!

एक दिन शीतकाल में कुछ लोगों के साथ बादशाह हवा सेवन के लिए न‍गर से बाहर निकला। वह घूमते-घूमते एक ऐसे स्‍थान पर जा पहुँचा जहॉं एक पुराना जलकुण्‍ड जल से लबालब भरा हुआ था। उस कुण्‍ड पर आदमियों वा जानवरों का समागम भी बहुत कम था। बादशाह ने अपना हाथ कुण्‍ड में डुबोया, उसका…

Mitti Choos Ka Draviya Akbar Birbal Ki Kahani

मट्टीचूस का द्रव्‍य! अकबर बीरबल की कहानी

दिल्‍ली नगर एक बड़ा शहर है, उसमें सभी श्रेणी के मनुष्य निवास करते हैं। इसी शहर में एक अति दीन मनुष्‍य भी रहता था। वह बड़ा कंजूस था। कंजूसी के कारण धीरे-धीरे इसके पास बहुतेरी मुहरें इकट्ठी को गई। जब उसे मुहरों को घर में रखने से चोरी हो जाने की आशंका हुई तो उन…

bulata aa akbar birbal ki 2 kahaniya

बुलाता आ… अकबर बीरबल की दो कहानिंया!

बुलाता आ… एक दिन बादशाह प्रात: काल हाथ मुँह धोकर अपने एक नौकर से बोला- बुलाता आ। लेकिन आगे का मतलब नहीं बतलाया कि फलॉं को बुलाता आ। बिचारे नौकर ने बहुतेरा मूड़ मारा, पर उसकी समझ में कुछ न आया कि आखिरस किसको ले जावे। वह निरर्थक बहुतेरे आदमियों के पास दौड़ा, आया, गया…

Akbar Birbal Ki Teen Kahaniya in Hindi

अकबर – बीरबल की तीन मजेदार कहानियाँ!

थोड़ा और बुहत! एक दिन बीरबल अपनी छोटी कन्‍या को साथ लेकर दरबार में गया। पहले बादशाह ने उस को बहुत प्‍यार किया जब वह प्रसन्‍न होकर कुछ बातें करने को उद्यत हुई तो बादशाह ने पूछा- क्‍यों बेटी! क्‍या तुम बातें करना जानती हो? जब उस लड़की ने जवाब दिया- थोड़ा और बहुत। बादशाह…

Sab Sayano Ka Ek Mat Akbar Birbal Ki Kahani in Hindi

सब सयानों का एकमत! – Akbar Birbal Ki Kahani in Hindi

एक दिन बादशाह ने बीरबल से पूछा- क्‍यों बीरबल संसारसंसार के मनुष्‍यों की बुद्धि एक समान होती है वा उसमें कुछ अंतर भी होता है। बीरबल ने जवाब दिया- पृथ्‍वीनाथ! क्‍या आपने इस कहावत को नहीं सुना है- सब सयानों का एक मत। यानी और सब बातों में तो लोगों की बुद्धि में विभेद पाया…

Roopchandra Aur Phoolchandra Johri

रूपचंद्र और फूलचंद्र जौहरी! Akbar Birbal Ki Kahani

दिल्‍ली शहर में कपूर चंद्र जौहरी के दो पुत्र थे। बड़े का नाम रूपचंद्र और छोटे का फूलचंद जौहरी था। मरते समय कपूरचंद काफी धन अपने दोनों लड़को के लिये छोड़ गया था। बाप के क्रिया कर्म के पश्‍चात जो कुछ धन बच रहा उससे दोनों भाइयों ने कई वर्षो तक गुलछर्रे उड़ाये। आखिरकार उनकी…

darpan mein mohre akbar birbal ki kahani

दर्पण में मोहरें! अकबर बीरबल की कहानी

एक रात्रि में किसी मनुष्‍य को जब कि वह अचेत निद्र देवी की गोद में पड़ा-पड़ा विश्राम कर रहा था, ऐसा स्‍वप्‍न दीख पड़ा- मैं किसी किसी वेश्‍या के पास सोया हुआ हूँ। तमाम रात उसके साथ सोहबत करने के बाद दसे दस अशर्फियॉं देकर घर लौट रहा हूँ। जब वह नींद से जगा तो…

Tak Wala Dev Aur Pakhane Ka Sev Akbar Birbal Ki Kahani

ताक वाला देव और पाखाने का सेव! Akbar Birbal Ki Kahani

बीरबल अपनी चालाकी से बादशाह हो बारम्‍बार नीचा दिखाया करता जिससे वह बीरबल से हमेशा शरमिन्‍दा रहता था। एक दि बादशाह से बदला लेने का विचार किया। अच्‍छे-अच्‍छे बैज्ञानिकों और कारीगरों से सम्‍मति लेकर अपने रहने के कमरे में एक ताख इस ढंग का बनवाया कि जिसके जरिये बीरबल को धोखा दिया जा सके। उसमें…

Naya Diwan Akbar Birbal Ki Kahani in Hindi

नया दीवान! Akbar Birbal Ki Kahani in Hindi

यह तो किसी से छिपा नहीं है कि बीरबल अकबर का मुँह लगा दीवान था। वह उसको हर प्रकार से मात किये रहता था। एक दिन बादशाह गुस्‍से में था। बीरबल उसके मनोगत भावों को ताड़ न सका और बातों-बातों में उसकी हँसी उड़ाने लगा। बादशाह को उसकी हँसी से मार्मिक वेदना हो रही थी।…

Akbar Birbal 2 Funny Story in Hindi

नकली बीरबल और खुदा को अक्‍ल से पहचानो! Akbar Birbal Story in Hindi

नकली बीरबल जब से बादशाह को बीरबल के मृत्‍यु का समाचार मिला था तबसे उसके विछोह के कारण बड़ा दलगीर रहता और बराबर उसका शोक मनाया करता था। बादशाह की उदासी मिटाने के लिये लोगों ने बड़ी-बड़ी तरकीबें निकाली, पर दिल की लगन बुरी होती है। जब उपायों से कार्य सिद्धि न हुई तो करबारियों…

error: Content is protected !!