Fitness Tips

ये पांच एक्‍सरसाइज पेट का फैट हटाने में रहती है मददगार!

ये पांच एक्‍सरसाइज पेट का फैट हटाने में रहती है मददगार!

Fitness Tips
अधिक व्‍यस्‍तता और फिजिकल एक्टिविटी की कमी से पेट का बाहर निकलना सामान्‍य बात हो गई है। इसे विसरल फैट कहते हैं। यह न केवल शरीर को बेडौल करता है बल्कि कई गंभीर बीमारियों का कारण भी है। जानते हैं कुछ व्‍यायाम के बारे में जिन्‍हें नियमित करने से पेट अंदर हो सकता है। इन्‍हें एक्‍सपर्ट की सलाह से ही करें। 1) डेड बग यह व्‍यायाम पेट अंदर करने के लिए साथ कोर डेवलप के लिए किया जाता है। लोअर बैक को भी मजबूत बनाता है। इसके रोजाना 3 सेट कर सकते हैं। इसमें सांस पर ध्‍यान रखना चाहिए। एक्‍सरसाज शुरू करते समय ध्‍यान केंद्रित करें। इस दौरान पेट अंदर की ओर खीजें। बीपी और हार्ट के रोगी हैं तो ज्‍यादा देर तक सिर न उठाए।2) प्‍लैंक एल्‍बो प्‍लैंक से पेट तेजी से अंदर हो जाता है। लोगों में भ्रम है कि जितनी अधिक देर तक रोकते हैं तो फायदा ज्‍यादा होता है। एसा न करें। एक बार में 30-50 सेकंड तक ही करें। पोजि
इन तरीकों से करें कम वजन!

इन तरीकों से करें कम वजन!

Fitness Tips
बदले हुए खानपान और दिनचर्या के कारण लोगों में मोटापे की समस्‍या बढ़ती ही जा रही है। कुछ बातों का ध्‍यान रखकर बढ़ते वजन पर काबू पाया जा सकता है। धूप में बैठिए एक अध्‍ययन के अनुसार धूप में बैठने से वजन कम होता है। धूप में बैठने का संबंध भूख कम करने से भी होता है। धूप में बैठेंगे तो पसीना आएगा, जिससे शरीर की चर्बी कम होगी।कीजिए घर का काम वजन कम करने में घर से जुड़े कामों में एक्टिव रहने पर भी फायदा मिलता है। खुद ही कुछ महीने के लिए घर की साफ-सफाई, झाडू, पोछा लगाना शुरू कर दीजिए। ये सभी एक तरह की एक्‍सरसाइज ही है। इससे शरीर की कैलोरी कम होती है। 15 मिनट झाडू लगाने से लगभग 25 कैलोरी कम होती है। घर के काम करने पर हड्डियां भी मजबूत होंगी, कमर, पीठ दर्द की समस्‍याओं से भी आपको राहत मिलेगी।डाइट प्‍लान का ध्‍यान रखें। वजन कम करने के लिए आपको वेट लॉस डाइट प्‍लान फॉलो करना चाहिए। जहां भी ज
कमर दर्द में आराम देती पेल्विक एक्‍सरसाइज!!

कमर दर्द में आराम देती पेल्विक एक्‍सरसाइज!!

Fitness Tips
पेल्विक योगासनों को करने से शरीर में स्‍फूर्ति का संचार होता है। पेल्विक के आस-पास मांसपेशियों में रक्‍त संचार बढ़ता है। कमर दर्द में आराम मिलता है। कब्‍ज की दक्कित, कंधे व गर्दन के दर्द में भी आराम मिलता है। रीढ़ की हड्डी का लचीलापन बढ़ता है।प्रथम क्रिया जमीन परपर बैठ जाएं। दोनों पांव पूरा खोलें। इसके बाद दोनों हाथ पीछे की ओर जमीन पर रखें। नाक से श्‍वांस लेते हुए चेस्‍ट व पेट फुलाएं और सांस छोड़ते हुए पेट अंदर खीचें। पेल्विक को बाएं-दाएं जमीन पर रगड़ें। ऐसा 5-7 बार सांस लेते-छोड़ते हुए करें।द्वितीय क्रिया चित्रानुसार लेटकर एक पैर को ऊपर उठाकर हवा में गोल-गोल घुमाएं। इसके बाद दूसरे पैर को घुमाएं। ऐसा करते समय गहरी सांस लें और छोड़ें। यह क्रिया रोजाना पांच-सात बार कर सकते हैं।तृतीय क्रिया चित्रानुसार लेटकर सांस भरते हुए पैर को उठाते हुए विपरीत दिशा में सांस छोड़ते ह
कब्‍ज और मुहांसों में फायदेमंद हैं ये योगासन!!

कब्‍ज और मुहांसों में फायदेमंद हैं ये योगासन!!

Fitness Tips
युवावस्‍था में चेहरे पर मुहांसे होना त्‍वचा संबंधी आम समस्‍या है। कई बार मुहांसों वाली जहग पर काले निशान हो जाते हैं। इलाज के बाद भी ये ठीक नहीं होते हैं। असंतुलित आहार तैंलीय पदार्थ, जंकफूड और व्‍यायाम की कमी से समस्‍या बढ़ती है। पौष्टिक आहार के साथ इन योगाभ्‍यास को नियमित करने कब्‍ज में आराम मिल सकता है। विशेषज्ञों की सलाह से ही किसी योग का अभ्‍यास करें। उत्‍तानासन (Uttanasana Yoga)उत्‍तानासन करने के लिए सावधान की मुद्र में खड़े हो जाएं। गहरी सांस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर की ओर उठाएं। इसके बाद सांस छोड़ते हुए हाथों को जमीन की ओर लाएं। पैरों के अंगूठे को छूने का प्रयास करें। करीब 15-20 सेकंड तक इस अवस्‍था में रहें। इसके बाद सामान्‍य स्थिति में आ जाएं। इसके नियमित अभ्‍यास से शरीर में रक्‍त का संचार सुचारू होता है और त्‍वचा संबंधी दिक्‍कतें तनाव, थकान और मेनोपॉज से संबंधित समस्‍या
वजन खूब कम करेंगे ये छोटे टिप्‍स!!

वजन खूब कम करेंगे ये छोटे टिप्‍स!!

Fitness Tips, Health Care
मोटापा आज एक ऐसी समस्‍या बन गई है, जो तेजी से बढ़ रही है। इसके पीछे कारण मुख्‍य कारण हमारी जीवनशैली में आया परिवर्तन है। आज हम जिस लाइफ स्‍टाईल को फॉलो कर रहें है उसमें आरामतलबता बढ़ती जा रही है। इस तरह हम दिनभर में जो भी कैलोरी लेते हैं, वह बर्न होने के बजाय शरीर में एकत्रित होती जा रही है। इसी लाइफस्‍टाइल की वजह से धीरे-धीरे मोटापे जैसे समस्‍या बढ़ती जा रही है। यदि हम समय रहते बवेयर नहीं हुए तो मोटापा और उससे जुड़े रोगों की चपेट में आ जाएंगे। इसलिए मोटापे को कंट्रोल करना बहुत जरूरी है। इसके लिए हमें सबसे पहले दैनिक जीवन में कुछ खास आदतों की अपनाने की जरूरत है। मोटापे के कारण डायबिटीज और दिल की बीमारियों की आशंका कई गुना बढ़ जाती है!!आइए जानते हैं ऐसी कुछ आदतों के बारे में... फिजिकल एक्टिविटी मोटापा को कम करने के लिए नियमित शारीरिक कसरत करना भी जरूरी है क्‍योंकि कसरत से शरीर की अत
अगर नियमित डाइट को मिस किया तो !!

अगर नियमित डाइट को मिस किया तो !!

Fitness Tips
सेहत के मामले में डायटिंग और क्रैश डाइटिंग जैसे फॉर्मूले कई बार भारी पड़ जाते हैं। जानें इनकी भ्रांतियों के बारे में:- अगर आपको भी लगता है कि डाइट में कमी करने या खूब सारी एक्‍सरसाइज कर आप जल्‍दी अपना वजन कम कर लेंगे, तो संभल जाइए। ज्‍यादातर लोग इन भ्रांतियों को बिना परखे अपनाने लगते हैं और बदले में कई तरह की तकलीफों को निमंत्रण दे बैठते हैं। स्लिम होने यानी वजन कम करने की चाह में ज्‍यादातर लोग बिना किसी एक्‍सपर्ट की सलाह के खाने की कई चीजें से दूरी बना लेते हैं। यहां तक कि ब्रेकफास्‍ट, लंच या डिनर तक मिस करने लगते हैं। साथ ही एक्‍सरसाइज पर जरूरत से ज्‍यादा जोर देने लगते हैं। लेकिन हकीकत में वजन कम करने का यह तरीका सही नहीं है। इससे न सिर्फ शरीर कमजोर होता है, बल्कि इम्‍यूनिटी भी कम होने लगती है। यहां हम कुछ ऐसी ही भ्रांतियों पर चर्चा कर रहे है जिसके चक्‍कर में लोग अपनी सेहत खराब कर रहे
बढ़ती तोंद पर योग से लगाएं लगाम!

बढ़ती तोंद पर योग से लगाएं लगाम!

Fitness Tips
बढ़ता कमर का घेरा कई दिक्‍कतों का कारण बनता है। यह न सिर्फ रोगों को बढ़ता है बल्कि चलने-फिरने और जोड़ों को भी प्रभावित करता है। ऐसे में कुछ योगासनों से पेट की चर्बी कम कर सकते हैं। ये योगासन चर्बी घटाने के साथ कई तरह से लाभ देते हैं... मोटापे को रोकने के कई उपाय बताए गइ हैं उनमें से योग भी एक है। कुछ खास योग मदद कर सकते है।शलभासनऐसे करें:- पेट के बल लेटें और हथेलियां जांघों के नीचे रखें। ठोडी को जमीन से लगाएं और धीरे-धीरे पैरों को ऊपर उठाएं। घुटनों को मुड़ने दें। दोनों पैरों को जितना ऊपर ला सकते हैं, लाएं। कुछ सेकंड इस स्थिति में रुकें। धीरे-धीरे पूर्वावस्‍था में आएं। 30-30 सेकंड के 5 राउंड करें। आखेंबंद और एकाग्रता पीठ व पेट पर हो।ये न करें:- पीठ या कमर में अधिक दर्द हो, तो एक पैर से भी इसे किया जा सकता है। हर्निया व अपेंडिक्‍स के मरीज इसे न करें।फायदे:- यह जोड़ों के
लंबाई बढ़ाने के भी हैं कुछ अच्‍छे तरीके!

लंबाई बढ़ाने के भी हैं कुछ अच्‍छे तरीके!

Fitness Tips
व्‍यक्तित्‍व को निखारने में हाइट का अहम रोल है। अक्‍सर कम हाइट वाले अपनी हाइट बढ़ाने में लगे रहते हैं। इसकी कमी से आत्‍मविश्‍वास में भी कमी देखी जाती है। पुलिस, मॉडलिंग व अन्‍य में अच्‍छी हाइट का होना जरूरी है। कई बार मानते हैं की लंबाई एक निश्‍चित उम्र तक ही बढ़ती हैं या माता-पिता की हाइट के अनुसार ही बच्‍चों की लंबाई होती है। लेकिन संतुलित-पोष्‍टिक आहार, व्‍यायाम व योग नियमित करने या जीवन शैली में सही आदतें अपनाकर हाइट बढ़ाने में मदद मिलती है।खानपान में न बरतें लापरवाही! संतुलित व पोष्टिक खानपान व्‍यक्ति की हाइट व शरीरिक विकास के लिए अहम है। मांस, मछली, सोयाबीन, मूंगफली, दालें आदि में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है। जो ग्रोथ हार्मोन के सही स्‍त्रावण में मददगार है। वही कैल्शियम, जिंक फॉस्‍फोरस, मैग्‍नीशियम जैसे खनिज लवणों का नियमित सेवन करें। यह हरी सब्जियों सूखे मेवे, फल, दही, छा
आज कुछ ज्‍यादा खा लिया है?

आज कुछ ज्‍यादा खा लिया है?

Fitness Tips
इसमें कोई दोराय नहीं है कि जरूरत से ज्‍यादा खा लेना सेहत पर भारी पड़ सकता है। हां, कभी-कभार ओवरईटिंग की जा सकती है लेकिन अगले दिन अगर आप महसूस करने लगें कि कुछ ज्‍यादा ही हो गया है तो इस स्थिति को संभालने के लिए आप ये कदम उठा सकती हैं।अपने शरीर की सुनें और घबराएं नहीं! यह जानना जरूरी है कि आपका शरीर खाने के प्रति कैसी प्रतिक्रिया देता है। ओवरर्इटिंग से वापस लौटने के लिए सबसे अच्‍दा उपाय है उसी तरह के खाने की आदतों को अपनाना, जो आपके लिए पहले भी कारगर रही हों। खाना छोड़ना या कैलोरीज कम करना सही नहीं है। वर्कआउट के साथ सेहतमंद खाने की आदत आपको दोबारा सही रास्‍ते पर ले आएगी। पंद्रह मिनट की वॉक भी आपको अद्भुत फादे दे सकती है।सतरंगा हो भोजन! डाइट में सेहतभरा और अलग-अलग रंगों का खाना, फल और सब्जियां शामिल करके आप अपने शरीर को ताकतवर बनाने के साथ ओवरईटिंग से जल्‍द उबरने के लिए सक्षम ब
जानें सात आदतें जो आपका वेट करें कम।

जानें सात आदतें जो आपका वेट करें कम।

Fitness Tips, Health Care
जिन व्‍यक्तियों का बॉडी मास इंडेक्‍स (बीएमआई) 25 से 29.9 के बीच होता है, वे लोग ओवर वेट की श्रेणी में आते हैं। यदि बॉडी मास इंडेक्‍स 30 से ज्‍यादा है तो ऐसे लोग मोटापे की श्रेणी में आते है। दरअसल मोटापा कई रोगों को आमंत्रित करता है, इससे डायबिटीज और हार्ट डिजीज की संभावना कई गुना बढ़ जाती है।मोटापा आज एक ऐसी समस्‍या बन गई है। जो तेजी से बढ़ रही है। इसके पीछे कारण बस इतना सा है कि हमारी जीवन शैली पूरी तरह से बदल गई है। आज हम जिस लाइफस्‍टाल को फॉलो कर रहे हैं उसमें आरामतलबी बढ़ती ही जा रही है। इससे हम दिनभर में जो भी कैलोरी लेते हैं वह बर्न होने के बजाए बॉडी में स्‍टोर होती जा रही है। इस आदल से धीरे-धीरे मोटापा जैसी समस्‍या बढ़ रही है। यदि समय रहते हम अवेयर नहीं हुए तो मोटापा और उससे जुड़े कई तरह से रोगों की चपेट में आ जाएंगे। इसलिए यदि अपने रूटीन लाइफ में कुछ खास तरह की हेबिट्स को डेवलप
error: Content is protected !!