Tag: Pasina Rokne Ke Upay in Hindi

हथेली पर आता है ज्‍यादा पसीना, हल्‍के में ना लें।

हथेली पर आता है ज्‍यादा पसीना, हल्‍के में ना लें।

Health Care
गर्मियों में शरीर का तापमान संतुलित बनाए रखने के लिए काम करने वाली स्‍वेद ग्रंथियां कई बार हथेली और तलवे पर अति सक्रिय हो जाती हैं। यह स्थिति हाइपरहाइड्रोसिस कहलाती है। इसमें हथेली और तलवे पर इतना पसीना आता है कि लोगों के लिए गंभीर समस्‍या बन जाती है।गंभीर बीमारी नहीं! गर्मियों में पसीना आना सामान्‍य बात है, लेकिन हथेली और तलवे में सामान्‍य से ज्‍यादा पसीना आना लोगों के लिए बड़ी समस्‍या बन जाती है। नेशनल न्‍यूरोसाइंस इंस्‍टीट्यूट के सीनियर कंसल्‍टेंट डॉ अर्नस्‍ट वान्‍ग का मानना है कि हथेली या तलवे से सामान्‍य से अधिक पसीना आना गंभीर बीमारी नहीं, बल्कि स्‍वेद ग्रंथियों में गड़बड़ी होती है। कुछ उपायों या दवाइयों से इस समस्‍या का काफी हद तक समाधान किया जा सकता है, लेकिन स्‍थाई इलाज सर्जरी है। गर्मी, आर्द्रता, ज्‍यादा एक्‍सरसाइज, तनाव, डर आदि इस समस्‍या के मुख्‍य कारक है। हथेली में ज्‍यादा
error: Content is protected !!