Tag: Prernadayak Vichar in Hindi

लड़कियों को हर पल चौकन्ना रहना होगा..!!

लड़कियों को हर पल चौकन्ना रहना होगा..!!

Miscellaneous
लडकियों के लिये पोस्ट है सभी पढ़े.. तुम और वो लड़की रात के तीसरे पहर चैट कर रहे हो। बात करते करते तुम्हे कामुकता का अहसास होता है। तुम बिना सोचे बिना एक पल गवाए उससे फोटो की मांग कर देते हो। वो कहती है की वो नहीं दे सकती। तुम अपने जिद्द पर अड़े रहते हो। वो तुम्हे समझाने की कोशिश करती है। तुम उसे तुमपर यकींन करने को कहते हो। वो कहती है शादी के बाद देख लेना वो तुम्हारी ही तो है। तुम फिर भी नहीं मानते।फिर वो तुम्हे वेट करने को कहती है। तुम बड़े सब्र से इंतज़ार करते हो। फिर वो तस्वीरें भेज देती है। तुम खुश हो जाते हो। तुम उसे देख कर थोड़ी देर के ******** के बाद शांत हो जाते हो। अब वो तस्वीरें तुम्हे भद्दी लगने लगती है।फिर तुम अपने दोस्तों में रोब ज़माने के लिए उसकी तस्वीरें अपने दोस्तों को भेजते हो ये कह कर की वो देख कर डिलीट कर देंगे। लेकिन उनमे से कोई उसे कही और फॉरवर्ड कर दे
ज्ञानवाणी – शरीर से संवाद!!

ज्ञानवाणी – शरीर से संवाद!!

Miscellaneous
स्‍वयं का शरीर से संवाद होने दो! उससे कहो कि विश्रांत हो जाएं, उसे कहो कि यहां डरने की कोई जरूरत नहीं है! तनाव खुद दूर होता जाएगा...सत्‍य की शक्ति! सत्‍य अपने आप में एक शक्ति है, साधना और तपस्‍या है। जिसके पास सत्‍य की शक्ति है उसके पास दुनिया की हर वस्‍तु स्‍वत: ही आ जाती है। झूठ से तो सिर्फ आश्‍वासन, दिखावा और फरेब मिलता है। जब बच्‍चा छोटा होता है तो उसे सिखाते है कि जीवन में सच बोलना चाहिए, ईमानदारी के पथ पर चलना चाहिए। सत्‍य ही मनुष्‍य का असली आभूषण है। जो सच को अपनाता है वह कहीं भी असफल नहीं होता है।शरीर से संवाद! बंद आंखों के साथ अपने शरीर के भीतर नख से शिखर तक जाकर देखो कि तनाव कहां है। और तब उस हिस्‍से से बात करो जैसे कि तुम अपने मित्र से बात करते हो। अपने और अपने शरीर के साथ संवाद होने दो। उससे कहो कि विश्रांत हो जाएं। उसे कहो कि यहां डरने की कोई जरूरत नहीं है। डरो
ईश्वर की रचना – कितनी अदभुद! कितनी गहन! कितनी सरल!

ईश्वर की रचना – कितनी अदभुद! कितनी गहन! कितनी सरल!

Miscellaneous
ईश्वर की रचना - कितनी अदभुद!, कितनी गहन!, कितनी सीधी(सरल) ईश्वर की रचना कितनी अद्भुद है, हम जितना चिंतन करते हैं प्रभु की इस दुनिया का, उतने ही नए-नए अहसास होते है। आज आपसे ऐसे ही कुछ अहसासों के बारे में जिक्र करना चाहती हूँ :- 1:- हमारी काया, यह मानव देह, इसके हर अंग का कितना महत्व है, सबके काम भगवान ने कितने अविश्वश्नीय बनाये है कि डॉक्‍टर इस देह से रोज नीत नए परिवर्तन का अध्ययन करते हैं, फिर भी हर पल नया अहसास वह पाते है।हमें भूख क्यू लगती है, खाना कैसे पच जाता है, ब्लड सर्कुलेशन सिस्टम GOD ने गजब का बनाया है, दिमाग कि अजीब पहेली है इत्यादि।2:- एक मानव देह से दूसरी मानव देह का जन्म, अतुलनीय रचना प्रभु की। जितना सोचे उतना प्रभु का धन्यवाद्! यह सब तो प्रभु ने हमें आशीर्वाद के रूप में देकर भेजा है! अब कुछ ऐसे रोचक अहसास जो दुनियाँ में हम महसूस करते है:- 1:- एक बच्चा जब घर म
सही समय पर सही बात बोलना!

सही समय पर सही बात बोलना!

Miscellaneous
स्वयं की आत्मरक्षा के लिए- सही समय पर सही बात बोलना!"आवाज" - बोलने की ताकत, परमात्मा ने दी हैं। ईश्वर ने यह मानव देह बनायीं हैं उसके हर एक अंग का अपना महत्व हैं। जब इन्सान दुनिया में आता है, हम सब जानते है, बच्चे को पैदा होते ही उसे रुलाया जाता हैं ताकि बच्चे के कोई प्रॉब्लम तो नहीं, पता चल जाता है।बच्चे को प्रभु आवाज देके भेजता है ताकि जब तक वह बोलना नहीं सीखे वह रो कर, चिल्ला कर अपनी जरुरत अपने माता-पिता को बता सके। कहते है न, बिना रोये माँ भी दूध नहीं पिलाती बच्चे को। कितना सही कहा है - कि इंसान को धरती पर आते ही आवाज की जरुरत होती है अपनी बात कहने को और अपनी जरुरत बताने के लिए, और अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए। बच्चा पैदा होते ही रोये नहीं तो डॉ. और परिवार को लगता है बच्चा स्वस्थ नहीं, उसके फेफड़े ख़राब है क्या, उसको कही कंठ मिला है या नहीं इत्यादि।आवाज को शब्द परिवार के स
नरेन्द्र मोदी के 10 प्रेरणादायक अनमोल विचार!

नरेन्द्र मोदी के 10 प्रेरणादायक अनमोल विचार!

Quotes
‘‘ हमारे पूर्वज सांपों के साथ खेलते थे, और आज हम माउस के साथ खेलते हैं!’’‘‘ मैं एक छोटा आदमी हॅूं, जो छोटे लोगों के लिये कुछ बड़ा करना चाहता हॅूं!’’ - नरेन्द्र मोदी‘‘हम वादे नहीं, इरादे लेकर आये हैं!’’ - नरेन्द्र मोदी‘‘एक गरीब परिवार का बेटा आज तुम्हारे सामने खड़ा है, यही प्रजातंत्र की ताकत है!’’ - नरेन्द्र मोदी (प्रधानमंत्री)‘‘यदि मैं नगर निगम (Municipality) का भी अध्यक्ष होता तो भी उतनी ही मेहनत से काम करता जितना पी.एम होते हुए करता हॅूं!’’‘‘ यदि 125 करोड़ लोग एक साथ काम करें, तो भारत 125 करोड़ कदम आगे बढ़ जायेगा ’’‘‘मैं एक ऐसा भारत बनाऊंगा जहाँ सारे अमेरीकन्‍स भारत को वीसा लेने लाइन में खड़े होगें!’’‘‘मुझे देश के लिए मरने का मौका तो नहीं मिला पर देश की सेवा करने का मौका ज़रूर मिला है’’‘‘ मैं आपसे वादा करता हॅू
जानें सफल जीवन के 17 सूत्र!

जानें सफल जीवन के 17 सूत्र!

Quotes
जीवन में सफल कौन नहीं होना चाहता, हर एक व्‍यक्ति को अपने जीवन में सफलता चाहिए। तो जानें आप अपने जीवन में कैसे सफलता प्राप्‍त कर सकते है, इन 18 सूत्रों को अपना कर।✍1. जीवन जब तुम पैदा हुए थे तो तुम रोए थे जबकि पूरी दुनिया ने जश्न मनाया था। अपना जीवन ऐसे जियो कि तुम्हारी मौत पर पूरी दुनिया रोए और तुम जश्न मनाओ।✍2. हार ना मानना बीच रास्ते से लौटने का कोई फायदा नहीं क्योंकि लौटने पर आपको उतनी ही दूरी तय करनी पड़ेगी जितनी दूरी तय करने पर आप लक्ष्य तक पहुँच सकते है।✍3. हार जीत सफलता हमारा परिचय दुनिया को करवाती है और असफलता हमें दुनिया का परिचय करवाती है।✍4. कठिनाइयां जब तक आप अपनी समस्याओं एंव कठिनाइयों की वजह दूसरों को मानते है, तब तक आप अपनी समस्याओं एंव कठिनाइयों को मिटा नहीं सकते।✍5. आत्मविश्वास अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने में लग जाती
सफलता की आदतें ~ प्रेरणादायक लेख

सफलता की आदतें ~ प्रेरणादायक लेख

Miscellaneous
दोस्‍तों अगर आपकों अपनी जिंदगी में सफल बनना है तो, आपको मेहनत, लग्‍न के साथ साथ आपनी आदतों को भी सुधारना पडेगा क्‍योकि हमारी आदतें ही हमारें जीवन को दिशा प्रदान करती है। आपको एक छोटी सी कहानी के जरिये हम यह बताने की कोशिश करते है कि कैसे आदतें हमारी सफलता में मददगार साबित होती है।दो बचपन के दोस्त बहुत सालों बाद मिलते है, एक दोस्त अपनी अच्छी आदतों की वजह से सफलता के ऊचॉंईयों पर पहुँच जाता है, और अमीर बन जाता है। जबकि दूसरा दोस्त अपने आलस, बहानेबाजी जैसी बुरी आदतों की वजह से गरीब रह जाता है, और गरीबी में आपने दिन गुजारता है।जब अमीर दोस्त अपने बचपन के दोस्त के घर पर जाता है, तो देखता है कि घर में चारों तरफ जाले लगे है, घर का सामान अस्त-व्यस्त है, वह जो कुर्सी देता है उस पर भी बहुत सी धूल लगी हुई है। तो अमीर दोस्त अपने गरीब दोस्त से कहता है - "तुम अपना घर साफ क्यों नहीं रखते हो" तब ग
अपनी गलतियों को कैसे भुलाये! खुद को माफ़ करने के 5 तरीके।

अपनी गलतियों को कैसे भुलाये! खुद को माफ़ करने के 5 तरीके।

Miscellaneous
बहुत बार हम कुछ ऐसा कर देते हैं या बोल देते हैं जिसके लिए हमें बाद में बहुत खेद और पश्चाताप होता है। खासकर तब जब आपने किसी अपने का दिल दुखाया हो।रहिमन धागा प्रेम का मत तोड़ो चटकाय, टूटे से फिर ना जुड़े, जुड़े गांठ पड़ जाय।आपको हम 5 बातें बताते है जो आपको और अपनी गलतियों को माफ़ करने में बहुत मदादगार होगी।1. माफ़ी मांगने में संकोच न करें:-कुछ इस तरह हमने अपनी जिंदगी आसान कर ली, कुछ को माफ़ कर दिया और कुछ से माफ़ी मांग ली।हालाँकि माफ़ी मांगना इतना आसान नहीं होता लेकिन अगर आप किसी से माफ़ी मांगने के लिए पहल करते हैं तो ये दर्शाता है कि आपसे गलती हुयी थी और आप उसके लिए शर्मिन्दा हैं, और इस तरह आप वैसी गलतियों को दोहराने से बच जाते हैं।2. शर्म के मरे छुपने की वजाय सामने आईये:- अपनी किसी भयंकर गलती के बाद शर्म से छुप जाना बिलकुल भी अच्छा नहीं है। अपनी गलती के बाद हम अपने दोस्त स
रतन टाटा के 10 प्रेरणादायक विचार!

रतन टाटा के 10 प्रेरणादायक विचार!

Quotes
रतन टाटा टाटा समूह जो की भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक समूह है के अध्यक्ष हैं। इन का जन्म 28 दिसंबर 1937, को मुम्बई में हुआ था। टाटा समूह की स्थापना जमशेदजी टाटा ने की थी और उनके परिवार की पीढ़ियों ने इसका विस्तार किया। टाटा समूह की उन्नति में रतन टाटा का महत्वपूर्ण योगदान है। वे देश के युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत हैं। यदि उनके विचारों को अपनाया जाए तो कोई भी व्यक्ति सफल इंसान बन सकता है ऐसे ही कुछ रतन टाटा द्वारा कहे गये कुछ प्रेरणादायक विचार:-पावर और पैसा का मैं गलत इस्‍तेमाल नहीं करता। यदि यह सार्वजनिकता की कसौटी पर खरा उतरता है तो इसे जरूर करो। पूर्वजों द्वारा विरासत में मिली जीचों का महत्‍व समझें और इसे संरक्षित करें। जिस दिन मैं उड़ान भरने में सक्षम नहीं होऊंगा वह दिन मेरे लिए एक दुखद दिन होगा। लोगों की सेवा करने के लिए व्‍यवसायियों को अपनी कंपनियों के हितों से ऊपर
error: Content is protected !!