सांस रोग में फायदेमंद है पंचशक्ति मुद्रा!!

योगासनों के अलावा योग मुद्राएं भी फायदा पहुंचाती है। ये कई तरह की होती है। शरीर पंच तत्‍व अग्नि, वायु, जल, पृथ्‍वी व आकाश से मिलकर बना है। ये पांचो तत्‍व हमारे हाथो की सारी अंगुलियों में जैसे अंगूठे में अग्नि, तर्जनी में वायु, मश्‍यमा में आकाश, अनामिका में पृथ्‍वी और कनिष्‍का में जल तत्‍व स‍माहित होता है। इसीलिए हाथों की उंगलियों से ही कई प्रकार की योग मुद्राएं की जाती है जिनसे कई लाभ होते हैं।

जानते हैं इससे होने वाले लाभ के बारे में:-

ऐसे करें:-

पंच‍शक्ति मुद्रा करने के लिए दोनों हाथों को नमस्‍कार मुद्र में रखे। फिर चित्रानुसार मुद्र बनाएं। परंतु इस बात का ध्‍यान रखे कि एक उंगली दूसरी उंगली से दूर होनी चाहिए। इसे 1-2 मिनट तक ऐसे ही रखें।

फायदे:-

पंचशक्ति मुद्रा के कई फायदे हैं। इसे नियमित किया जाए तो फेफड़े संबंधी रोग, सांस रोग, नजला जुकाम, बलगम आना, सर्दी लगना, जोड़ों का दर्द आदि समस्‍याएं दूर होती है।

खास:-

पंचशक्ति मुद्रा फेफड़ों संबंधी रोगो के लिए बहुत ही लाभकारी है। यह मुद्रा रोजाना करने से फेफड़ों के रोग पूरी तरह से खत्‍म हो जाते हैं।


for search purpose:- Panchshakti Yoga Mudra for Good Health in Hindi, Best and Good Health Care Tips in Hindi for Male and Females.




Related...



Leave a Reply