ये 5 चीजें! गैस, एसिडिटी, अपच, कब्ज दूर करती हैं !

ऑयली और स्पाइसी खाना खाने में तो बहुत ही स्वादिष्ट लगता है, लेकिन गर्मियों में इसका सेवन सेहत पर बुरा असर डालता है। इसलिए गर्मियों में हल्का खाना और खूब पानी पीना फायदेमंद कहा गया है। लिक्विड डाइट को वैसे भी शरीर के लिए बहुत ही जरूरी माना गया है। फिर भी ऐसे भोजन से अगर अपच और एसिडिटी की समस्या हो गई हो, तो इससे निपटने के कई सारे ऑप्शन्स मौजूद हैं।

  1. अदरक
    जी मिचलाना, अपच और पेट दर्द जैसी समस्याएं होने पर अदरक का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है। गैस की समस्या में सबसे ज्यादा पेट दर्द होता है कई बार तो डॉक्टर के पास जाने की नौबत आ जाती है। अदरक में दो प्रकार के केमिकल्स जिन्जेरॉल्स और श्गॉल्स पेट की अंदरूनी सफाई करते हैं। ये गैस के साथ ही एसिडिटी की समस्या से भी राहत दिलाते हैं।

    इसे बनाने के लिए:-
    एक कप गर्म पानी में अदरक के टुकड़े डाल कुछ देर उबलने दें। कुछ देर बाद शहद और स्वादानुसार नींबू का रस मिलाएं। इसके बाद 10 मिनट तक इसे ढंककर थोड़ी देर और उबाल लें और खाने के बाद एक कप अदरक की यह चाय पीकर देखें। गैस और एसिडिटी से राहत मिल जाएगी।

  2. पुदीने की चाय
    पुदीना एसिडिटी की समस्या को दूर करने में कारगर माना गया है। पुदीने की तासीर ठंडी होती है। यह खराब भोजन के कारण होने वाले पेट दर्द, मरोड़ और गैस से छुटकारा दिलाता है। इसमें मौजूद मेन्थॉल सांसों को रिफ्रेश करने के साथ ही अनेक प्रकार की बीमारियों से भी बचाता है। खाने के बाद एक कप पिपरमिंट टी पीने से पाचन सही रहता है।

    इसे बनाने के लिए:-
    पानी गर्म करके उसमें पिपरमिंट वाटर बैग डालें और 10-15 मिनट के लिए इसे ढंक कर छोड़ दें। 15 मिनट बाद इसमें से टी बैग निकालकर इसे पी लें। इससे पाचन दुरुस्त रहता है।

  3. नींबू पानी
    सुबह-सुबह रोजाना एक गिलास गर्म पानी में नींबू मिलाकर पीना कई प्रकार के रोगों से दूर रखता है। नींबू में मौजूद हाइड्रोक्लोरिक एसिड खाने को पचाने में सहायक होता है। इसकी मात्रा जितनी ज्यादा होगी, उतनी ही जल्दी भोजन भी पचेगा। इसके साथ ही नींबू पानी शरीर की सारी गंदगी को दूर कर इम्यूनिटी पावर को भी बढ़ाता है।

    कैसे करें उपयोग:- सुबह उठते ही पैन में एक गिलास पानी गर्म करें। पानी गुनगुना हो और उसमें 1 नींबू निचोड़कर डाल दें। मिक्स करें और इसे पी लें। एसिडिटी और गैस की समस्या न केवल दूर होगी, बल्कि इसके लगातार सेवन से आगे भी कई प्रकार की बीमारियों से राहत मिलेगी।

  4. भुना जीरा
    सालों से जीरा का इस्तेमाल गैस और एसिडिटी की समस्या से निजात पाने के लिए किया जाता रहा है। जीरे को या तो भुनकर या कच्चा चबाकर पानी पीने से काफी फायदा होता है।

    कैसे करें उपयोग:-
    जीरे का तवे पर हल्का भून लें और इसका पाउडर बना लें। जब भी गैस के कारण पेट में दर्द उठे, उस वक्त हल्के गर्म पानी के साथ इसे फांक लें। तुरंत आराम मिलता है।

  5. पपीता
    पेट में गैस बनने का मुख्य कारण अपच होना है। इसलिए भोजन में फाइबर की ज्यादा से ज्यादा मात्रा शामिल करने की सलाह दी जाती है। जब खाना छोटी आंत में न जाकर बड़ी आंत में पहुंच जाता है, तो अक्सर गैस की समस्या पैदा हो जाती है। इसमें पपीता खाना बहुत ही फायदेमंद होता है।

    कैसे करें उपयोग:-
    पपीते को कच्चा, उबालकर या उसकी कोई डिश बनाकर खाना भी फायदेमंद होता है। आगे से जब भी एसिडिटी और गैस की प्रॉब्लम हो तो पपीता खाएं, तत्काल राहत मिलती है।




Related...