तनाव व नींद की कमी के उपाय!

अपने घर जैसा आराम और सुकून किसी जगह नहीं मिलता। ऐसे में जब कोरोना वायरस की वजह से हम घर में ज्‍यादा से ज्‍यादा समय बिता रहे हैं तो जरूरी है कि इसके माहौल को खुशनुमा किया जाए। यों भी इस वायरस की वजह से कई लोग डिप्रेशन, तनाव और चिंता से जूझ रहे हैं। लेकिन यह समय शांत और मानसिक रूप से खुद को मजबूत बनाए रखने का है। घर पर रहते हुए प्राकृतिक तरीकों से तनाव दूर कर सकते हैं। अरोमाथैरपी के जरिए एंजाइटी और तनाव दूर करने के तरीके बता रही है ब्‍यूटी एक्‍सपर्ट मलिका गंभीर।

इलायची।
आप अपने मूड को अच्‍छा करना चाहते हैं तो इलायची का प्रयोग करें। यों तो बाजार में इलायची का तेल भी मिलता है। अभी आप बाचार नहीं जा सकते। ऐसे में एक-दो इलायची को पानी के साथ उबाल लें। जब पानी आधा रह जाए तो इस ठंडा करें और एक स्‍प्रे वाली बोतल में डालकर चारों तरु छिड़कें। इसके तनाव रोधी गुण होते हैं। इसका उपयोग न केवल चिंता और तनाव के लिए किया जा सकता है। बल्कि नर्वस रिलैक्‍सेशन के लिए एक अच्‍छा विकल्‍प है। यह तंत्रिका विकारों को भी नियंत्रित करने में बहुत योगदान देता है।

लैवेंडर ऑयल।
घर के माहौल को खुशनुमा बनाने के लिए लैवेंडर ऑयल की कुछ बूंदे पानी में डालकर छिड़काव कर सकते हैं। यह एंटीबैक्‍टीरियल है। आप नहाने के पानी में भी इसकी कुछ बूंदे डाल सकते हैं। यह आपके रक्‍त संचार की प्रणाली को सुधारता है। साथ ही आप अपने मॉइस्‍चराइजर में भी इसकी कुछ बूंदे डाल सकती है। यह एक प्राकृतिक एयर फ्रेशनर भी है। अगर आप ठीक से सो नहीं पाते तो इसकी कुछ बूंदे अपने तकिए के कवर पर स्‍प्रे कर सकते हैं, यह अच्‍छी नींद में आपकी सहायता करेगा। तनाव को कम करने के लिए आप इसे अपने कानों के पीछे और कलाई पर भी लगाएं।

नेरोली ऑयल।
अरोमाथैरपी में नेरोली ऑयल भी उदास और थके मन को शांत करने के लिए अच्‍छा तरीका है। यह आपकी नींद में सुधार करके आपको सुस्‍ती और मानसिक तनाव से मुक्‍त कराता है। इसका उपयोग आप बिस्‍तर पर लेटने से पहले कर सकते हैं। अपने तकिए पर तेल की एक बूंद डालें और इसे आपको सुखदायक नींद देने के लिए काम करने दें।

Source: News Paper


Stress Relieving Home Remedies in Hindi, Tanav Kam Karne Ke Tarike Gharelu Upay, Lack of Sleep Stress Relief Home Remedies in Hindi



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *