जानें साइनस Sinusitis में क्‍या घरेलू उपचार करें।

अक्‍सर लोगों को मौसम में थोड़े से परिवर्तन से भी जुकाम जैसी समस्‍या हो जाती है और उनकी नाक बंद हो जाती है, लेकिन ऐसी स्थिति लंबे समय तक रहती है तो इसे हल्‍के में नहीं लेना चाहिए। यह साइनस की समस्‍या भी हो सकती है। साइनस में नाक बहती है, आंखों में दर्द होता है और सिरदर्द भी रहता है। साइनस की समस्‍या को दूर करने के लिए आपको खानपान की आदतों में परिवर्तन लाना भी जरूरी है। यदि समय पर इसका सही इलाज नहीं किया जाए तो ऑपरेशन भी करवाना पड़ सकता है। इसके अलावा यह समस्‍या आगे चलकर अस्‍थमा और माइग्रेन में भी तब्‍दील हो सकती है।

तो आइए जानते है कुछ घरेलू और आयुर्वेदिक अपचार के बारे में:-

नारियल पानी में मौजूद पोटेशियम बॉडी को पूरी तरह से साफ कर देता है जिससे साइनस ठीक हो जाता है।

दानामेथी का पानी पीएं!

साइनस की समस्‍या को दूर करने के लिए दानामेथी बहुत फायदेमंद होती है। इसके लिए आप एक कप पानी में एक चम्‍मच मेथी के दाने डालकर उसे अच्‍छी तरह से उबाल लें। अब पानी को ठंडा होने दें। इस पानी का छानकर सेवन करें। ऐसा कुद दिनों तक नियमित करने से आपको आराम मिलेगा।

प्‍याज के पानी से लें भाप!

प्‍याज नासिका मार्ग को साफ करने में मदद करती है। यह उन बैक्‍टीरिया को भी नष्‍ट करने में मदद करती है जो साइनस संक्रमण के कारण होते हैं। एक प्‍याज को काट कर उबलते पानी में डालें। 10 मिनट के लिए पानी को उबालें औश्र उसके बाद आप एक तौलिए के साथ अपने सिर को ढक कर भाप ले सकते है।

काम की है सहजन की फलियां! (Drumstick)

साइनस की समस्‍या बहुत ज्‍यादा परेशान करती है तो आप सहजन की फलियों का सूप पीएं। इसके लिए आप सहजन की फलियां, अदरक, कालीमिर्च, प्‍याज और लहसुन डालकर एक काढा तैयार करें। इस तरह आपको रोजाना एक कप गर्म काढ़ा पीना होगा। कुछ ही दिनों में आराम महसूस हो जाएगा।

पुदीने का तेल!

पुदीने का तेल भी भाप देने के लिए बहुत अच्‍छा है। यह बलगम को बाहर निकालने का काम भी करता है। इसके लिए आप एक बड़ा कटोरा लें, उसमें गर्म पानी डालें और पुदीने के तेल की 5-6 बूंदें मिलाएं। सिर को तौलिए से ढक कर भाप लें। इस घरेलू उपचार से आपको काफी हद तक रात मिलेगी।

ऑरिगेनोऑयल! (अजवायन की पत्ती का तेल)

ऑरिगेनो (Oregano oil)भी सइनसाइटिस के उपचार में असरदार है। अजवायन के तेल में एंटीबैक्‍टीरियल प्रोपर्टीज होती है जो कि कई तरह के बैक्‍टीरिया से हमारी रक्षा करता है। इस ऑयल का उपयोग आप अपनी डाइट में भी कर सकते हैं। चाय में भी इसकी कुछ बूंदें मिलाकर लें सकते हैं।

टमाटर का रस!

टमाटर विटामिन ए से भरपूर होता है जो साइनस की समस्‍या को दूर करने में असरदार है। आप टमाटर के रस में एक चम्‍मच नींबू और थोड़ा नमक मिलाकर उबालें। इस पेय का सेवन करें।

सेब का सिरका!

सेब का सिरका साइनस का उपचार करने में बहुत उपयोगी होता है। इसके लिए आप एक गिलास गर्म पानी में सेब के सिरका को दो चम्‍मच मिलाएं। इस पानी का सेवन दिन में 2-3 बार कर सकते हैं। यह साइनसाइटिस के लक्षणों को दूर करता है।


English Keywords: Know Sinus Disease Home Remedies in Hindi, Sinus Problem Home Remedy in Hindi, Sinus Ke Lakshan, Sinus Ka Gharelu Upchar




Related...



Leave a Reply