वीमन केयर – 30 के बाद दिल की सुनना जरूरी!!

Women Heart Disease Attack Health Care Tips in Hindi

हृदय रोगों से जुड़े मामले ज्‍़यादातर पुरुषों में ही देखने में आते रहे हैं लेकिन अब महिलाओं में भी इसकी समस्‍या देखने को मिल रही है। इसका बड़ा कारण अनुवांशिक है इसके अलावा सुस्‍त जीवनशैली, पर्यावरण प्रदूषण, धूम्रपान, अल्‍कोहल, खानपान की गलत आदतें भी हैं। हाल ही हुए एक शोध के अनुसार 30 वर्ष पार महिलाएं एक्‍सरसाइज से दूरी बना लेती है ऐसे में हृदय रोगों के बढ़ने की आशंका बढ़ जाती है।

बढ़ रही दिक्‍कत:-

महिलाओं में भी इसका कारण पुरुषों की तरह ही दबावपूर्ण जीवनशैली में रहना है। पहले महिलाओं में 50, 60 और 70 की उम्र में हार्ट प्रॉब्‍लम नजर आती थी लेकिन बदलती लाइफस्‍टाइल और ओबेसिटी के कारण इसके मामले 30 बर्ष की उम्र में बढ़ रहे हैं।

लाइफस्‍टाइल डिजीज:-

एक्‍सपर्ट का कहला है कि मधुमेह, हाईबीपी, ओबेसिटी और लाइफस्‍टाइल डिस्‍टॉर्डर भी हृदय रोगों का एक कारण है। अगर किसी महिला को मधुमेह है तो बीपी और हृदय को लेकर सतर्क रहना चाहिए। दुनियाभर के डॉक्‍टर्स-वैज्ञानिक मानते हैं कि एक्‍सरसाइज की कमी महिलाओं के लिए सबसे बड़ा खतरा है। यदि महिलाएं हर हफ्ते लगभग 150 मिनट की हल्‍की-फुल्‍की एक्‍सरसाइज करें तो कई बीमारियों से बच सकती हैं। कार्डियो वेस्‍कुलर और मेटाबॉलिक हैल्‍थ के लिए एरोबिक्‍स जरूरी है। नियमित स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्‍सरसाइज भी अनिवार्य है। व्‍यायाम से ब्‍लड प्रेशर संतुलित रहता है, बॉडी फैट कम होता है और शुगर स्‍तर ठीक रहता है।

ऐसे पहचानें:-

हृदय रोग जैसे हार्ट अटैक के लक्षण है:- घबराहट होना, ब्‍ल्‍ड प्रेशर बढ़ना, सीने में दर्द, बांहों में दिक्‍कत होना, पीठ या जबड़े में दर्द, सांस का उखड़ना, अचानक पसीना निकलना और सिर दर्द। इसमें से कोई भी लक्षण महसूस हो तों तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करें।

यू करें बचाव:-

लाइफस्‍टाइल और खानपान में थोड़ा बदलाव करके भी इस समस्‍या को काफी हद तक दूर कर सकते हैं।

जैसे:-
नियमित तौर पर 20-30 मिनट की स्‍ट्रेचिंग और एक्‍सरसाइज कर सकती हैं।
बीएमआई 23 से ज्‍यादा न होने दें और कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर जानने के लिए जांच कराती रहें।
स्‍मोकिंग और अल्‍कोहल से दूरी बनाएं
जंक और प्रोसेस्‍ड फूड से परहेज करें।
घर में छोटे-छोटे काम खुद ही करें इससे शरीर सक्रिय रहेगा। खानपान में नमक और चीनी का इस्‍तेमाल कम से कम करें।
हरी पत्‍तेदार सब्जियों और ताजे फल जरूर खाएं। ये कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर कम करने के साथ पाचन क्रिया भी दुरूस्‍त रखता है। साथ ही फलों में एंटीऑक्‍सीडेंट्स भरपूर मात्रा में होते है जो संक्रमण से बचाते हैं।
अधिक समय तक एसी में बैठने से बचें।
7-8 घंटे की नींद जरूर सें। तनाव से दूर रहें।


for search purpose: Know Women Heart Disease / Attack Health Care Tips in Hindi, Heart Attack Symptoms in Women Under 30, 40, in Hindi, How to Avoid / prevent Heart Attack in Hindi



Related Posts


Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



error: Content is protected !!