जानें प्‍लेट लेट्स क्‍या हैं ?

डॉ. मणि कोठारी
सीनियर फिजिशियन, जयपुर
(पत्रिका न्‍यूज पेपर के 20/08/17 अंक में प्रकाशित लेख से लिया गया)

• प्‍लेट लेट्स क्‍या हैं ?
प्‍लेट लेट्स रक्‍त का एक हिस्‍सा है। इनका आकार प्‍लेट्स की तरह होता है इसलिए इसका यह नाम है।

• यह क्‍या कार्य करती है ?
यह खून का थक्‍का (Blood Clot) बनाने में सहायक होती है। यदि किसी को चोट लग जाती है तो इनकी वजह से ही रक्‍त स्‍त्राव बंद हो जाता है। इस कारण यह बहुत जरूरी है कि शरीर में इनकी संख्‍या पर्याप्‍त रहे।

• मौसमी बीमारियों में प्‍लेट लेट्स को लेकर लोग चिंतित रहते हैं ?
समान्‍यतया इनकी संख्‍या 1,50,000 से लेकर 4,00,000 तक होती है। यदि किसी कारणवश कम हो जाए तो 50,000 तक की चिन्‍ता की अवश्‍यकता नहीं है। यदि इससे कम हो तो रक्‍तस्‍त्राव की आशंका बढ़ जाती है यदि 10,000-20,000 है तो जल्‍दी उचित इलाज कराना जरूरी है।

• किन बीमारियों में प्‍लेट लेट्स कम हो जाती है ?
डेंगू, मलेरिया, स्क्रब टाइफस (Scrub Typhus), फीवर, टाइफाइड मुख्‍य हैं। डेंगू फीवर में 1,000 से 10,000 रोगियों में से एक के इस तरह की परेशानी होती है।

• इस स्थिति में क्‍या करना चाहिए ?
डॉक्‍टर की सलाह से मरीज को प्‍लेट लेट्स (Platelets) चढ़ानी पड़ती है। मरीज के ब्‍लड ग्रुप के व्‍यक्ति के रक्‍त से प्‍लेट लेट्स निकाल कर मरीज को चढ़ाई जाती है। इसका असर 24 से 48 घंटे तक रहता है। इसलिए बीमारी का मूल कारण का इलाज करना जरूरी है।

• प्‍लेट लेट्स बढ़ाने के उपाय ?
पिछले कुछ समय में कुछ दवाईंयां उपलब्‍ध हैं। उनके सेवन करने से इनकी संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी होने की संभावना रहती है। कुछ घरेलू नुस्‍खे (home remedies) भी आजमाए जा सकते हैं, इसमें पपीते के पत्‍तों (Papaya leaves juice) का रस काफी प्रचलित हैं।

• दवा भी प्‍लेट लेट्स को शरीर में कम करती है ?
दर्द निवारक दवा निमेसुलाइड (Nimesulide), डाइक्लोफेनेक (Diclofenac) एवं इबुप्रोफेन (ibuprofen) प्‍लेट लेट्स को कम करती है।


Health Care Related Information in Hindi, Expert Interview in Hindi, Platelets Information in Hindi, What is The Meaning of Platelets in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!