सर्दी के मौसम में सूप जरूर पीएं!

हमें अपने खानपान में पौष्टिक चीजों को अहमियत देनी चाहिए। कोशिश करनी चाहिए कि हमारे रूटीन के खानपान में पौष्टिक तत्‍व शामिल हों। खानपान में एक महत्‍वपूर्ण पहलू यह भी है कि यह मौसम के मुताबिक होना चाहिए। मौसम के अनुसार खानपान हमारे लिए अधिक फायदेमंद होता है। सर्दी ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। ऐसे में हमें भी सर्दी से जुड़े खानपान पर ध्‍यान देना चाहिए। सर्दी के खानपान में सूप को भी प्राथमिकता से शामिल करना चाहिए। सूप हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए काफी फायदेमंद होता है।

स्‍वीट कॉर्न सूप

स्‍वीट कॉर्न सूप न्‍यूट्रीएंट्स और एंटीऑक्‍सीडेंट्स तत्‍वों से भरपूर होता है। यह सूप हार्ट आर्टरीज के ब्‍लॉकेज दूर करने में मददगार होता है। हाइपर टेंशन को कम कर साइलेंट हार्ट अटैक के खतरे को कम करता है। फेफड़ों को स्‍वस्‍थ रखने में मददगार होता है। सांस संबंधी समस्‍याओं में राहत देता है। मस्तिष्‍क की नसों को खोलता है।



टमाटर सूप

विटामिन-सी और ए से भरपूर होता है टमाटर का सूप। शरीर के स्किन टिश्‍यूज में होने वाले डैमेज या ड्राईनेस को निष्‍प्रभावी करके उन्‍हें मॉइश्‍चराइज करता है और झुरियों से बचाता है। टमाटर में मौजूद लाइकोपिन शरीर के फैट को गलने में मदद करता है। ऑलिव ऑयल के साथ बना टमाटर सूप वजन कम करने में सहायक होता है।

प्रोटीन सूप

राजमा, चना, छोले से बना यह प्रोटीन सूप तासीर में गर्म होने से सर्दियों में फायदेमंद होता है। इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत करता है। एंटीऑक्‍सीडेंट्स, फाइबर, प्रोटीन व अन्‍य पोषक तत्‍वों से भरपूर ये सूप थकावट दूर करता है और एनर्जी देता है। एनीमिया के मरीजों के लिए लाभकारी है। यह कोलेस्‍ट्रॉल को नियंत्रण में रख ह्रदय को स्‍वस्‍थ रखने में सहायक होता है।

मटर सूप

मटर सूप में मौजूद पोटेशियम बंद नसों को खोल ब्‍लड सर्कुलेशन बनाए रखने में मदद करता है। यह ब्‍लउप्रेशर, ह्रदय रोगों में फायदेमंद है। इसमें मौजूद विटामिन-के चोट लगने पर बहने वाले खून को जमाने में सहायक होता है। इसमें मौजूद विटामिन-के हडि्डयों को मजबूत बनाता है।

मशरूम सूप

मशरूम सूप के ढेरों फायदे हैं। सेलिनियम का अच्‍छा स्‍त्रोत होने के कारण मशरूम सूप नर्वस सिस्‍टम को कंट्रोल कर ब्‍लड प्रेशर के लेवल को बढ़ने नहीं देता। इसमें मौजूद फोलिक एसिड त्‍वचा को स्‍वस्‍थ बनाए रखता है। यह इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत बनाता है। ब्रेन सेल्‍स को डैमेज होने से बचाजा है। मशरूम सूप हमारे शरीर को बैक्‍टीरिया या फंगल इन्‍फेक्‍शन से बचाजा है।

साबुत दालों का सूप

साबुत दालों को मिलाकर बनाया गया सूप भी हमारी सेहत को लिए काफी फायदेमंद होता है। एंटीऑक्‍सीडेंट, फाइबर, प्रोटीन और अन्‍य पोषक तत्‍वों से भरपूर ये सूप ऊर्जा प्रदान करता है। देर तक पेट भरा होने का एहसास दिलाता है। ये सूप सर्दियों में जोडों के दर्द में आराम दिलाता है।

कब लें सूप?

आहार विशेषज्ञों का मानना है कि सूप खाली पेट पीना चाहिए। खाली पेट सूप पीने से यह शरीर में जल्‍दी अवशोषित हो जाता है। इसलिए सूप खाना खाने से पहले पीया जाता है। बेहतर है कि डिनर से करीब एक या डेढ़ घंटे पहले सूप पीना चाहिए। सर्दियों में शाम होते-होते गर्म चीजें ज्‍यादा खानी चाहिए। इलमें सूप को प्राथमिकता से शामिल करें।

कौन ले सकते है ?

सूप हर एक के लिए फायदेमंद माना जाता है। बुजुर्गो और बीमार व्‍यक्तियों के लिए सूप अधिक फायदेमंद होता है। सूप से उनके शरीर में पौष्टिक तत्‍वों की भरपाई आसानी से हो जाती है। सब्‍जी-रोटी खाने में आनाकानी करने वाले बच्‍चों क लिए भी सूप बेहतर रहता है। सूप को घर के खानपान में प्राथमिकता से शामिल करें।

पढ़ें :- सर्दी के मौसम की स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी सलाह!


English Keywords: Soup Benefits in Winter Season Health Tips in Hindi, Sardi Ke Mausam Mein Kya Khana Chahiye , Winter Health Care Tips in Hindi, Healthy Diet Tips for Winter in Hindi





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!