Tag: Gharelu Nuskhe in Hindi

तंबाकू की लत छुड़ाने के घरेलू उपाय नुस्खे!

तंबाकू की लत छुड़ाने के घरेलू उपाय नुस्खे!

Home Remedies
तंबाकू की आदत छुड़वाने में मनोवैज्ञानिक सलाह के अलावा निम्नलिखित घरेलू नुस्खे भी अपनाए जा सकते हैं -• बारीक सौंफ और मिश्री के दानों को मिलाकर धीरे-धीरे चूसें, नरम हो जाने पर चबाकर खा जाएं।• अजवाइन को साफ कर के नींबू के रस व काले नमक में दो दिन तक भींगने रख दें, इसे छांव में सुखाकर मुंह में रखकर चूसते रहें।• छोटी हरड़ को नींबू के रस अौर साेंधे नमक (पहाड़ी नमक) के घोल में दो दिन तक फूलने दें। इसे निकाल कर छांव में सुखाकर शीशी में भर लें और इसे चूसते रहें, नरम हो जाने पर चबाकर खा लें।• तंबाकू को सूंघने की आदत छोड़ने के लिए गर्मी के मौसम में केवड़ा, गुलाब, खस आदि के इत्र का फोहा कान में लगाएं।• सर्दी के मौसम में तंबाकू खाने की इच्छा होने पर हिना की खुशबू का फोहा सूंघें।याद रखे:- खाने की आदत को धीरे-धीरे छोड़ें! एकदम बंद न करें, क्योंकि रक्त में निकोटिन के स्तर को धीरे-धीरे
बच्चों के हरे-पीले दस्त के लिए घरेलू इलाज!

बच्चों के हरे-पीले दस्त के लिए घरेलू इलाज!

Home Remedies
1 ● जायफल, अतीस और ईसबगोल तीनोें की 10-10 ग्राम मात्रा लेकर महीन पीस लेें, बच्चे की उम्र अनुसार थोड़ी दवा लेकर चिकनी सिल पर पानी डालकर गारें। माँ के दूध में बच्चे को दें।2 ● चूने का पानी एक-एक चम्मच पिलाएँ, चूने का पानी मिट्टी के घड़े में एक सप्ताह चूना पानी भिगोने के पश्चात् निथार कर बनता है। बच्चों का ग्राइप वाटर इसका ही प्रकार है।3 ● सूखा रोग के कारण ऐसे दस्त हो रहे हों तो इतवार / बुधवार किसी भी एक दिन प्रात: काल बरगद के पेड़ की लटकती हुई हरी जड़ लेकर छोटी सी कुंडी सी बनाकर उसे नीले रंग के धागे से लपेटकर उसी दिन बालक के गले में पहना दें। ऐसा करने पर सूखा रोग से पीड़ित रोगी ठीक होगा एवं दस्त भी ठीक हो जाएँगे।
दवा के बिना बुखार कैसे कम करें? घरेलू नुस्खे!

दवा के बिना बुखार कैसे कम करें? घरेलू नुस्खे!

Home Remedies
जब कभी भी किसी बच्चे को बुखार आता है, तो बहुत से लोग फौरन दवाई के डिब्बे की ओर भगते है और कोई भी बुखार की दवाई निकाल कर दे देते हैं। बच्चों को इन सब केमिकल्स को निगलने के लिए मजबूर करने से पहले, बुखार कम करने के लिए कुछ बढ़िया एवं प्राकृतिक घरेलू नुस्खो को अपनाने का प्रयास करें। मरीज के बुखार से पीड़ित होने पर मरीज के शरीर में पानी की अधिकता और स्वच्छ रखना न भूलें, बुखार एक या दो दिन में उतर जायेगा।हम अब आपको कुछ उपाय बताने जा रहे है! जो आपको बुखार में उपयोगी साबित:-• मोजे को गीला करके उन्हें एड़ियों में पहिनना अजीब लगता है, पर बच्चों के तेज बुखार को कम करने के लिए यह अद्भुत उपाय है। एक जोड़ी सूती के मोजे लें जो बच्चे की एड़ियों को ढकने लायक लम्बेे हो, मोजे को ठंडे पानी में ठीक से गीला कर लें और अतिरिक्त पानी को निचोड़कर मोजों को बच्चे के पैरों पर रख दें और जब मोजे सूख जायें तो इस
हींग के कुछ खास फायदे – घरेलू नुस्खे

हींग के कुछ खास फायदे – घरेलू नुस्खे

Home Remedies
हींग केवल रसोई में काम आने वाला मसाला ही नहीं है, यह एक बेहतरीन औषधि भी है। भारत में कई सौ सालों से मसाले के रूप में हींग का उपयोग किया जा रहा है। हींग फेरूला-फोइटिडा नाम के पौधे का रस है। इस पौधे के रस को सुखाकर हींग बनाई जाती है। इसके पौधे 2 से 4 फीट तक ऊंचे होते हैं। ये पौधे विशेष रूप से ईरान, अफगानिस्तान, तुर्कीस्तान, बलूचिस्तान, काबुल और खुरासान के पहाड़ी क्षेत्रों में होते हैं। महर्षि चरक के अनुसार हींग दमा के रोगियों के रामबाण औषधि, कफ का नाश करने वाली, गैस की समस्या से राहत देने वाली, पक्षघात के रोगियों के लिए फायदेमंद व आंखों के लिए भी बेहद लाभदायक होती है।तो आज आप जानिए हींग के कुछ खास उपयोग-• खाने में हींग के रोज सेवन से महिलाओं के गर्भाशय का संकुचन होता है और मासिक धर्म से जुड़ी परेशानियां दूर हो जाती हैं।• हींग को पानी में मिलाकर घुटनों पर लगाने से घुटनों का दर्द
error: Content is protected !!