दो लघु कथाएँ – अन्‍नदाता का अधिकार & वे चार।

कथा 1 – अन्‍नदाता का अधिकार मिश्राजी अपने दोस्‍त के यहां आए थे। उनकी बेटी से बोले- ‘बेटा अब एमबीबीएस

Read more

किसी के प्रति कोई निर्णय लेने से पहले सौ बार सोचें!

एक समय की बात है… एक सन्त प्रात: काल भ्रमण हेतु समुद्र के तट पर पहुँचे… समुद्र के तट पर

Read more

चार सीपें – एक गुड़‍िया की कीमत!

एक 5 साल का लड़का और 3 साल लड़की जो की भाई-बहन थे दोनों साथ में बाजार से गुजर रहे

Read more

हंस और हंसिनी की कहानी (जरूर पढ़ें)

ये कहानी आपको झकझोर देगी 2 मिनट में एक अच्छी सीख अवश्य पढ़ें… एक बार की बात है 1 हंस

Read more
error: Content is protected !!