किसी अमृत से कम नहीं है ताजा गिलोय!!

Heart Leaved Moonseed Benefits Giloy Ke Fayde in Hindi

गिलोय उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को कम करने के लिए शर्करा का स्‍तर बनाए रखने में मदद करती है। यह दिल से संबंधित बीमारियों से बचाए रखता है। आयुर्वेद हो या एलोपैथी गिलोय के फायदों पर सभी एकमत हैं। दुनिया भर में हुए शोधों में साबित हो चुका है कि गिलोय किसी अमृत से कम नहीं है।

बुखार को ठीक करने का इसमें अद्धुत गुण है। यह मलेरिया पर अधिक प्रभावी नहीं है लेकिन शरीर की समस्‍त मेटाबोलिक क्रियाओं को व्‍यवस्थित करने के साथ औषधि के साथ देने पर उसके घातक प्रभावों को रोककर शीध्र लाभ देती है।

गिलोय की जड़ें शक्तिशाली एंटी ऑक्सिडेंट हैं। यह कैंसर की रोकथाम और उपचार में प्रयोग की जाती है।

गिलोय का नियमित प्रयोग सभी प्रकार के बुखार, फ्लू, पेट कृमि, खून की कमी, निम्‍न रक्‍तचाप, दिल की कमजोरी, टीबी, मूत्र रोग, एलर्जी, पेट के रोग, मधुमेह, चर्म रोग आदि अनेक बीमारियों से बचाता है। गिलोय भूख भी बढ़ाती है।

दीर्घायु प्रदान करने वाली अमृत तुल्‍य गिलोय और गेहूं के ज्‍वारे के रस के साथ तुलसी के 7 पत्‍ते तथा नीम के पत्‍ते खाने से कैंसर जैसे रोग में भी लाभ होता है।

वैज्ञानिकों के अनुसार इसमें एल्‍केलाइड गिलोइन नामक कड़वा ग्‍लूकोसाइड, वसा, अल्‍कोहल, ग्लिरूटरोल, अम्‍ल व उडनशील तेल होते हैं।

इसकी पत्तियों में कैल्शियम, प्रोट्रीन, फॉस्‍फोरस और तने में स्‍टार्च पाया जाता है। वायरसों की दुश्‍मन गिलोय रोग संक्रमण रोकने में सक्षम होती है। यह एक एंटीबायोटिक भी है।

पीलिया में फायदेमंद:- गिलोय का सेवन पीलिया रोग में भी बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए गिलोय का एक चम्मच चूर्ण, काली मिर्च अथवा त्रिफला का एक चम्मच चूर्ण शहद में मिलाकर चाटने से पीलिया रोग में लाभ होता है। या गिलोय के पत्तों को पीसकर उसका रस निकाल लें। एक चम्‍मच रस को एक गिलास मट्ठे में मिलाकर सुबह-सुबह पीने से पीलिया ठीक हो जाता है।

गिलोय इतनी गुणकारी है कि इसका नाम अमृता रखा गया है। गिलोय के पत्ते पान के पत्ते की तरह होते हैं। यह वात, कफ और पित्तनाशक (Antiphlogistic) होती है। गिलोय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (Disease resistance) को बढ़ाती है। साथ ही इसमें एंटीबायोटिक और एंटीवायरल तत्‍व भी होते है।

खून की कमी दूर करें:- गिलोय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और शरीर में खून की कमी को दूर करता है। इसके लिए प्रतिदिन सुबह-शाम गिलोय का रस घी या शहद मिलाकर सेवन करने से शरीर में खून की कमी दूर होती है।


Know Health Benefits of Giloy in Hindi, Giloy Ke Upyog Hindi Me, Giloy Plant Benefits for Hair, Skin, Cancer, Diabetes in Hindi Language, Heart leaved Moonseed



Related Posts


Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



error: Content is protected !!