घरेलू उपायों से गैस की बीमारी को भगाएं।

खान-पान में जरा भी गड़बड़ी हमारे पेट की सेहत बिगाड़ सकती है। कुछ घरेलु उपायों के जरिए ऐसी परेशानियों से काफी हद तक राहत पाई जा सकता है।

ऐसे बनती है गैस:-

खाने या कुछ पीने के साथ जब हम हवा निगल जाते हैं, तो हमारे पाचन तंत्र में गैस बनना शुरू हो जाता है। दरअसल हवा के साथ ऑक्‍सीजन और नाइट्रोजन दोनों ही हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। इसके अलावा हमा जो भी खाते हैं उसके पाचन के दौरान हाइड्रोजन, मीथेन या कार्बन डाई ऑक्‍साइड गैसें निकलती है और पेट में एकत्रित होने लगती हैं। शरीर से बाहर नहीं निकलने पर यह सारी गैसें पेट में दर्द या अन्‍य तकलीफ का कारण बन जाती है। रोजाना के खाने का असर गैस की समस्‍या पर दिखाई देता है। बीन्‍स, पत्‍ता गोभी, छोला और दाल या शुगरी फ्रूट जूस आदि को पचाना आसान नहीं होता है। जब खाना कोलेन से गुजरता है तो कई तरह की बैक्‍टेरिया इन्‍हें तोड़ता है जिससे गैस निकलती है।

इनसे मिलगी राहत:-

• जीरा पानी:- जीरा में एसेंशियल ऑयल होता है जो लार ग्रथिंयों को उत्‍तेजित करता है। साथ ही ज्‍यादा गैस भी नहीं बनती। दो कप पानी में एक चम्‍मच जीरा 10 से 15 मिनट तक उबालें। ठंडा होने पर इसे छान लें और खाने के बाद इसे पीएं।

• हींग:- गुनगुने पानी में आधा चम्‍मच हींग मिलाएं और पीएं। यह उन बैक्‍टीरिया को बनने से रोकता है जो अतिरिक्‍त गैस बनाते है। आयुर्वेद के अनुसार हींग वात दोष को नियंत्रित रखने में सहायक होता है।

• अजवाइन:- इससे थायमॉल तत्‍व होता है जो पाचन के लिए गैस्ट्रिक जूस का स्‍त्राव करता है। गैस होने पर पानी के साथ आधा चम्‍मच अजवाइन लें। इससे राहत मिलेगी।

नींबू का रस:- एक कप पानी में एक चम्‍मच नींबू का रस और आधा चम्‍मच बेकिंग सोडा मिलाकर पीने से गैस से राहत मिलती है। खाना खाने के बाद से पीने से कार्बन डाई ऑक्‍साइड बनता है जो पाचन की क्रिया हो बढ़ाता है।

त्रिफला:- उबले हुए पानी में आधा चम्‍मच त्रिफला डालकर 5-10 मिनट तक छोड़ दें। रात में सोने से पहले इसे पीएं।


why gas problem in human body in hindi, gas problem home remedy / treatment in hindi, Gas Ki Problem Ka Gharelu Ilaj in Hindi, gas problem in stomach home remedies

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!