पेट की गैस में छुपा है आपकी सेहत के राज!!

पेट में गैस बनने की समस्या काफी तकलीफदेह होती है। यह कई बार आपको शर्मिदा तो करती ही है साथ ही साथ आपके पाचन तंत्र की भी सेहत बिगाड़ सकती है। हर व्यक्ति के शरीर में बनती है गैस। यह शरीर से बाहर या तो डकार द्वारा या गुदा मार्ग से निकलती है। अधिकतर लोग 1 से 4 पिंट्स गैस पैदा करते हैं और एक दिन में कम-से-कम 14 से 23 बार गैस पास करते हैं। पेट की ये गैस आपके स्वास्थ्य के बारे में काफी कुछ बताती है। आइये जानें क्यों बनती है पेट में गैस और क्या बताती है वो आपके स्वास्थ्य के बारे में।

  1. गैस के लक्षण!
    पेट फूलना:- पेट का फूलना गैस की वजह से हो सकता है या बड़ी आंत का कैंसर या हार्निया भी इसका कारण बन सकता है। ज्यादा वसायुक्त भोजन करने से पेट देर से खाली होता है। इससे भी पेट फूल जाता है और बेचैनी होती है।
    पेट दर्द:- जब आंत में गैस मौजूद होती है, तब कुछ लोगों को पेट दर्द होता है। जब बड़ी आंत की बायीं ओर दर्द होता है, तो इससे हृदय रोग का भ्रम होता है, लेकिन जब दर्द दायीं ओर होता है, तो यह एपेन्डिक्स हो सकता है।
    डकार लेना:- जब कोई व्यक्ति खाने के दौरान या बाद में डकार लेता है तो इसका अर्थ है कि उसने खाने के साथ ज्यादा मात्रा में हवा निगल ली है।
  2. अनपचे भोजन के टूटने से
    कई खाने वाले पदार्थों में शुगर, स्टार्च और रेशे पाए जाते हैं। शरीर कुछ कार्बोहाइड्रेट को न तो पचा पाता है और न ही अवशोषित कर पाता है। छोटी आंत में कुछ निश्चित एंजाइमों की कमी या अनुपस्थिति से इनका पाचन क्रिया संभव नहीं हो पाती। यह अनपचा भोजन छोटी आंत में से बड़ी आंत में जाता है, जहां बैक्टीरिया इस भोजन को तोड़ते हैं, इससे हाइड्रोजन, कार्बन डाईऑक्साइड और एक तिहाई लोगों में मिथेन निकलती है। उम्र बढ़ने के साथ शरीर में एंजाइम का स्तर कम हो जाता है, इसलिए गैस की समस्या ज्यादा बढ़ जाती है।
  3. लाइफस्टाइल
    आपकी गैस बताती है कि आप देर से सोना और सुबह देर से जागना, टेंशन रखना, खाने-पीने का टाइम फिक्स्ड न होना। ये सब कर रहे है।
  4. निगली गई हवा द्वारा!
    एरोफैगिया या निगली गई हवा पेट में गैस बनने का सबसे प्रमुख कारण है। हर व्‍यक्ति द्वारा थोड़ी मात्रा में खाते समय और पीते समय हवा भी खाने-पीने की वस्‍तु के साथ निगल लेता है। जल्दी-जल्दी खाने या पीने, च्यूंगम चबाने, धूम्रपान करने से भी कुछ लोग ज्यादा हवा अंदर ले लेते हैं, जिनमें नाइट्रोजन, ऑक्सीजन और कार्बन डाई ऑक्साइड सामिल होती हैं। कुछ हवा डकार के द्वारा बाहर निकल जाती है, पर कुछ आंत में चली जाती है, बची हुई थोड़ी सी गैस यहां से बड़ी आंत में चली जाती है, जो गुदा मार्ग द्वारा बाहर निकलती है।
  5. खानपान
    अगर आपको गैस बन रही है तो आपका खानपान ठीक नहीं है। शराब पीने से, मिर्च-मसाला, तली-भुनी चीजें ज्यादा खाने से, बींस, राजमा, छोले, लोबिया, मोठ, उड़द की दाल, फास्ट फूड, ब्रेड और किसी-किसी को दूध या भूख से ज्यादा खाने से, खाने के साथ कोल्ड ड्रिंक लेने से, (इसमें गैसीय तत्व होते हैं) तला या बासी खाना भी गैस का कारण बन सकता है।
  6. बाकी वजहें
    गैस आपके शरीर बारे में भी बताती है कि आपके लीवर में सूजन, गॉल ब्लेडर में स्टोन, फैटी लीवर, अल्सर या मोटापे से, डायबीटीज, अस्थमा या बच्चों के पेट में कीड़ों की वजह से, अक्सर पेनकिलर खाने से, कब्ज, अतिसार, खाना न पचने व उलटी की वजह से।
  7. गैस के लिए घरेलू नुस्खे
    नारियल पानी गैस की समस्या में काफी असरदार होता है। खाना खाने के बाद अदरक के टुकड़ों को नींबू के रस में डुबोकर खाएं। अदरक में पाचक एंजाइम होते हैं जो कि गैस की समस्या से छुटकारा दिलवाने में सहायक हो सकता है। लहसुन पाचन की प्रक्रिया को बढ़ाता है और गैस की समस्या को कम करता है। लंबे समय से गैस से पीड़ित हैं तो लहसुन की तीन कलियों और अदरक के कुछ टुकड़ों को खाली पेट खाएं।

English Keywords: Gas Problem Solution in Hindi, Gas Ke Liye Gharelu Upay Upchar Nuskhe, Stomach Gas Home Remedy in Hindi




Related...



COMMENTS

Leave a Reply