बच्‍चों की डाइट सुधारकर मजबूत करें सेहत का सुरक्षाचक्र!!

Healthy Diet to Improve Immunity Power in Child in Hindi

अक्‍सर रोगों का एक कारण सामने आता है कि रोगी के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना। इसका कारण शरीर में पोष्‍क तत्‍वों की कमी और डाइट में एंटीऑक्‍सीडेंट से युक्‍त चीजें शामिल न करना है। कई बार मौसम में बदलाव होने पर स्थिति और भी बिगड़ जाती है। खासकर इसके मामले बच्‍चों में अधिक देखे जाते हैं। जानते हैं खानपान से जुड़ी कौन सी बाते जो इम्‍युनिटी बढ़ाती हैं और पोषक तत्‍वों की पूर्ति भी करती है।

दही

एक शोधानुसार ऐसे बच्‍चे जो दही खाते हैं, उनहें कान-गले का संक्रमण और सर्दी-जुकाम के होने की आशंका 19 फीसदी तक कम हो जाती है। इसमें शरीर को फायदा पहुंचाने वाले बैक्‍टीरिया होते है, जो बच्‍चों के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने में मदद करते हैं। इन गुड बैक्‍टीरिया को प्रोबायोटिक्‍स भी कहते हैं। रोजाना दही लेने से सूजन, संक्रमण और एलर्जी संबंधी समस्‍याएं भी दूर होती है।

यू दें

बच्‍चे को सादा दही देने की बजाय शेक या स्‍मूदी के रूप में दें। फल काटकर भी दे सकती हैं। इसमें ड्रायफ्रूट्स भी मिलाकर दें, ऊपर से चॉकलेट सॉस डालें। रोजाना 1 कटोरी दही भी दे सकती है।

टमाटर

लाल टमाटर में खास एंटीऑक्‍सीडेंट्स पाए जाते हैं जो बच्‍चे में फ्री-रेडिकल से होने वाले नुकसान से बचाते हैं। साथ ही इम्‍युनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। इसमें विटामिन-सी और बीटा कैरोटिन एंटीऑक्‍सीडेंट प्रचुर मात्रा में होता है। जो रोगों से लड़ता है।

यू दें

सब्‍जी के अलावा बच्‍चों को टमाटर से बनी प्‍यूरी दे सकती हैं। इसके अलावा, सॉस, सूप और सलाद के रूप में टमाटर दे सकती हैं। याद रहे 8 माह से कम बच्‍चे को ये न दें।

कलरफुल बेजीटेबल

लाल पीली व हरी शिमला मिर्च, गाजर, आलू, फूलगोभी और पत्‍तागोभी आदि सब्जियों में कलरफुल तत्‍व कैरोटीनायड्स पाए जाते हैं ये एंटीऑक्‍सीडेंट्स होते हैं। गाजर में विटामिन-ए, बी, सी, पोटेशियम और सोडियम पाया जाता है। इसके अलावा लाल शिमला मिर्च में बीटा कैरोटिन और विटामिन-सी अधिक पाया जाता है जो बच्‍चों की आंख और त्‍वचा को हैल्‍दी बनाने का काम करते हैं।

यू दें

रंगबिरंगी सब्जियों से सैंडविच, परांठा, रोल्‍स, कबाब, टिक्‍की आदि तैयार कर बच्‍चों को दे सकते हैं। इनमें मौजूद बीटा कैरोटिन कोल्‍ड और फ्लू से खासतौर पर बचाता है।

नट्स

नट्स में सैचुरेटेड फैट्स की मात्रा कम और प्रोटीन व फाइबर प्रचुर मात्रा में होते हैं। इनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता, बढ़ाने वाले जिंक, आयरन और विटामिन-बी जैसे तत्‍व होने के साथ ऐसे मिनरल्‍स और विटामिंस भी होते हैं, जो बच्‍चों का इम्‍यूनिटी सिस्‍टम मजबूत करते हैं।

यू दें

बच्‍चों को दलिया में नट्स डालकर खिलाएं। इसके अलावा फ्रूट सलाद और करी में भी डालकर खिला सकती है। जंक फूड की जगह बच्‍चों को भुने हुए नट्स खिलाएं।

लहसुन

इसमें एंटीवायरल और एंटीबैक्‍टीरियल ऑक्‍सीडेंट्स पाए जाते हैं। जो बच्‍चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं। लहसुन में मौजूद खास तत्‍व बच्‍चों में सल्‍फर की मात्रा अधिक होने से रोकते हैं।

यू दें

दाल-सब्‍जी के अलावा बच्‍चों को उनके फेवरेट फूड सूप, चटनी और गर्लिक ब्रेड में लहसुन डालकर खिला सकती हैं। ध्‍यान रहे कुकिंग करते समय लहसुन को हल्‍का सुनहरा होने तक भूने इससे अधिक भूनने पर इसके पोषक तत्‍व नष्‍ट हो जाते हैं।

सुपरफूड ब्रोकली

इसे सुपरफूड कहा जाता है। इसमें इंटीऑक्‍सीडेंट्स, एंटीइंफ्लेमेट्री और डिटॉक्सिफाइंग कंपोनेंट हैं जो इम्‍यूनिटी बढ़ाते है। इसके अलावा इसमें मिनरल विटामिन-ए, सी व ई अधिक होता है।

यू दें

पास्‍ता, सूप में इसे डालकर दिया जा सकता है।

बीन्‍स और दाल

बींस और दालों में फायबर और स्‍टार्च अधिक मात्रा में होता है जो पेट को मजबूत बनाने वाले बैक्‍टीरिया का निर्माण करते हैं। इसे बच्‍चों की डाइट में कई तरह से शामिल किया जा सकता है।

यू दें

दाल-बीन्‍स से तैयार कबाब, रोल, पकौड़े और टिक्‍की दे सकती हैं। चूकि दालों में प्रोटीन की मात्रा अधिक पाई जाती है और ये बच्‍चों के शरीर में उतकों के निर्माण में भी सहायता करता है।


for search purpose: Healthy Diet to improve immunity in human body, Children’s diet improves health, Super Foods that boost Immune System in Children, Food to Increase Immunity Power in Child Strong health.

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



error: Content is protected !!